छत्तीसगढ़: बीजापुर से दो नक्सली पुलिस के हत्थे चढ़े, हत्या के मामले में पुलिस कर रही थी इनकी तलाश

पुलिस के मुताबिक, उस्सोर पुलिस थाना क्षेत्र के गलगाम गांव के पास एक जंगल से लक्ष्मैया उर्फ लच्छू कट्टम (43) और महिला नक्सली चिम्मा उर्फ चिन्मयी कट्टम (42) को पकड़ा गया।

Chhattisgarh, Bijapur of Chhattisgarh, छत्तीसगढ़ का बीजापुर जिला,मध्य प्रदेश में छत्तीसगढ़,नक्सली गिरफ्तार, Naxals in Chhattisgarh, Naxals Arrested, sirf sach, sirfsach.in, सिर्फ सच

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में सीआरपीएफ और जिला बल की एक संयुक्त टीम ने दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया।

बीजापुर में सीआरपीएफ और जिला बल की टीम ने दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में सीआरपीएफ और जिला बल की संयुक्त टीम को नक्सलियों के खिलाफ एक और सफलता मिली है। बीजापुर पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की संयुक्त पार्टी ने 7 सितंबर को यहां अपहरण और हत्या जैसे संगीन मामलों में आरोपी दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक, उसूर पुलिस थाना क्षेत्र के गलगाम गांव के पास एक जंगल से लक्ष्मैया उर्फ लच्छू कट्टम (43) और महिला नक्सली चिम्मा उर्फ चिन्मयी कट्टम (42) को पकड़ा गया। पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल और सीआरपीएफ 229 बटालियन के कमाण्डेंड विवेक भड्राल के अनुसार, दोनों गिरफ्तार नक्सली एक ही परिवार से हैं। उन दोनों ने स्वीकार किया है कि वे प्रतिबंधित संगठन भाकपा (माओवादी) का हिस्सा हैं।

देश को मिली पहली आदिवासी महिला पायलट, ओडिशा की अनुप्रिया लाकरा के जज्बे को सलाम

जानकारी के मुताबिक, थाना उसूर से उप निरीक्षक जितेन्द्र जायसवाल के हमराह जिला बल और सीआरपीएफ की सयुंक्त पार्टी नक्सली गस्त सर्चिंग के लिए गलगम की ओर रवाना हुई थी। सर्चिंग के दौरान पुलिसबल को गलगम के जंगलों में दो नक्सलियों को पकड़ने में सफलता मिली। यह दोनों जनमिलिशिया सदस्य के तौर पर नक्सल संगठन में काम कर रहे थे और इन दोनों पर साल 2018 में उसूर थाना क्षेत्र से दो ग्रामीणों को अगुआ कर उनकी हत्या करने का आरोप है। दोनों नक्सलियों को गिरफ्तार कर बीजापुर न्यायालय में पेश किया गया, जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है। इससे पहले भी बीजापुर में ही पुलिस ने एक महिला नक्सली को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की थी। जिले के उसूर थाना से जवानों की टीम टेकमेटला गांव की ओर सर्चिंग के लिए निकली थी।

छत्तीसगढ़: सुकमा में सफल रहा नक्सलियों के खिलाफ मॉनसून ऑपरेशन, रिकॉर्ड 20 अभियान

इस दौरान एक महिला नक्सली पुलिस के हत्थे चढ़ गई। मुखबिर की सूचना के आधार पर टेकमेटला गांव में सुरक्षा बलों की टीम ने इस महिला नक्सली को गिरफ्तार किया। पुलिस के अनुसार, इस महिला नक्सली का नाम सोढ़ी पोज्जा है और वह लूट की घटनाओं में शामिल रह चुकी है। गिरफ्तार नक्सली सोढ़ी पोज्जा आवापल्ली-उसूर मार्ग पर 6 नवंबर, 2018 को यात्री बस को रोक कर यात्रियों और बस परिचालक के पैसे, मोबाइल लूटने एवं बस की आगजनी की घटना में शामिल रही है। उसूर थाना का पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त कार्रवाई में उक्त महिला नक्सली को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल हुई है। गिरफ्तार महिला नक्सली को बीजापुर न्यायालय में पेश किया गया।

पढ़ें: कुख्यात नक्सलियों असीम मंडल और अनल दा पर एक करोड़ रुपये का इनाम घोषित

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App