छत्तीसगढ़: सुकमा में धरी गई महिला नक्सली, कई बड़े नक्सलियों की थी करीबी

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सुरक्षाबलों ने एक महिला नक्सली को गिरफ्तार किया है। पुलिस इस महिला नक्सली की गिरफ्तारी को बड़ी कामयाबी मान रही है। इस महिला नक्सली की गुनाहों की फेहरिस्त काफी लंबी है।

लाल आतंक, महिला नक्सलियों ने सरेंडर किया, छत्तीसगढ़, सुकमा, सुरक्षाबलों ने एक महिला नक्सली को गिरफ्तार किया, महिला नक्सली की गिरफ्तारी, महिला नक्सली, स्पेशल टास्क फोर्स, महिला कमांडो, शहीदी सप्ताह

एक लाख की इनामी महिला नक्सली गिरफ्तार।

नक्सली संगठनों में महिलाओं की सक्रियता को कम करना पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती है। अक्सर यह खबरें सामने आती हैं कि कई महिलाएं राह भटक कर लाल आतंक के काले गुनाहों में शामिल हो जाती हैं। यह भी देखने में आया है कि इन महिलाओं को संगठन के अंदर काफी प्रताड़ित किया जाता है। हालांकि, पुलिस के डर से कई महिला नक्सलियों ने सरेंडर किया है या फिर पुलिस की कार्रवाई में मारी भी गई हैं।

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सुरक्षाबलों ने एक महिला नक्सली को गिरफ्तार किया है। पुलिस इस महिला नक्सली की गिरफ्तारी को बड़ी कामयाबी मान रही है। दरअसल इस महिला नक्सली की गुनाहों की फेहरिस्त काफी लंबी है और यह भी बताया जा रहा है कि यह महिला कई बड़े नक्सलियों की करीबी थी।

– पकड़ी गई महिला नक्सली का नाम ताती भीमे है।
– पीएलजीए प्लाटून की ट्रेनर रह चुकी है।
– ताती भीमे पालामड़गु और गच्छनपल्ली में जवानों पर हुए हमले में शामिल थी।
– इस हमले में स्पेशल टास्क फोर्स के 7 और कोबरा का एक जवान शहीद हुए था।
– भीमे के खिलाफ नक्सली घटनाओं के मामले में दो वारंट लंबित है।
– बताया जा रहा है कि यह महिला छत्तीसगढ़ के कई बड़े नक्सलियों की करीबी थी।

इस महिला नक्सली को पकड़ने में बस्तरिया बटालियन की महिला प्लाटून की भूमिका काफी अहम रही है। शहीदी सप्ताह के बीच महिला कमांडो की इस कार्रवाई से नक्सलियों को बड़ा नुकसान हुआ है। यह महिला कमांडो केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 74वीं बटालियन का हिस्सा हैं। महिला कमांडो की खासियत यह है कि यह बीहड़ों के बीच नक्सलियों से सीधा मुकाबला करने के लिए हमेशा तैयार रहती हैं।

इधर सुकमा जिले के पुलिस अधिकारियों ने बीते गुरुवार को यहां यह भी बताया कि जिले के तोंगपाल थाना क्षेत्र में पुलिस ने मड़कम हड़मा (24) को भी गिरफ्तार कर लिया है। हड़मा के सिर पर एक लाख रूपया का इनाम था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले में तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 227वीं बटालियन और जिला पुलिस बल के संयुक्त दल ने घेराबंदी कर हड़मा को गिरफ्तार किया है।

उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने गिरफ्तार नक्सली से जिलेटिन राड, वायर और नक्सली पर्चा बरामद किया है। अधिकारियों ने बताया कि हड़मा नक्सली मिलिशिया कमांडर के रूप में कार्य कर रहा था। वह पुलिस दल पर हमला समेत कई नक्सली घटनाओं में शामिल रहा है।

भारत में आतंकी और नक्सली संगठन कर रहे बच्चों की भर्ती- संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App