India-China LAC Clash: सैन्य सम्मान के साथ विदा हुआ बिहार का लाल, सबकी आंखों में दे गया पानी

बिहार रेजिमेंट 16 में तैनात समस्तीपुर जिले के मोहिउद्दीन नगर प्रखंड के सुल्तानपुर पूरब गांव के अमन कुमार सिंह शहीद हो गए। 16 जून की रात 9 बजे शहीद अमन (Martyr Aman Kumar Singh) के पिता सुधीर सिंह के मोबाइल पर लद्दाख से उनके बेटे के शहीद होने की जानकारी दी गई।

Martyr Aman Kumar Singh

शहीद अमन कुमार सिंह। (फाइल फोटो)

लद्दाख में LAC पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई झड़प में बिहार का का बेटा भी शहीद हुआ है। बिहार रेजिमेंट 16 में तैनात समस्तीपुर जिले के मोहिउद्दीन नगर प्रखंड के सुल्तानपुर पूरब गांव के अमन कुमार सिंह शहीद हो गए। 16 जून की रात 9 बजे शहीद अमन (Martyr Aman Kumar Singh) के पिता सुधीर सिंह के मोबाइल पर लद्दाख से उनके बेटे के शहीद होने की जानकारी दी गई।

बेटे के शहीद होने की खबर मिलते ही पूरा परिवार शोक में डूब गया। अमन सिंह (Martyr Aman Kumar Singh) को 2015 में बिहार रेजिमेंट 16 में तैनाती मिली थी। अभी पिछले साल ही अमन (Martyr Aman Kumar Singh) की शादी हुई थी। शहादत की खबर मिलने के बाद से अमन की पत्नी सदमे में हैं। वह रोते-रोते बेहोश हो रही हैं। अमन के पिता और परिवार के अन्य लोगों के भी आंसू थम नहीं रहे हैं।

शहीद कुंदन बीस दिन पहले ही बने थे पिता, बेटी का चेहरा भी नहीं देख पाए

पिता सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि अमन बचपन से ही सेना में शामिल होकर देश के लिए कुछ करना चाहता था। मेरे फोन पर अधिकारी का कॉल आया है। मैंने उठाया तो सामने से पूछा गया कि क्या आप अमन के पिता बोल रहे हैं? मैंने हां कहा। इसके बाद अधिकारी ने कहा कि अमन शहीद हो गए हैं। इतना कहकर उन्होंने फोन काट दिया।

यह भी पढ़ें