झारखंड: भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर कृष्णा की टीम का व्यवस्थापक गिरफ्तार, मिली बड़ी सफलता

नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर कृष्णा की टीम के व्यवस्थापक टेकलाल को गिरफ्तार किया गया है।

Naxali

पुलिस की गिरफ्त में आए कुख्यात नक्सली (Naxalites) प्रशांत मांझी ने ये जानकारी दी थी कि टेकलाल किस्कू नाम का शख्स पारसनाथ में छिपे नक्सलियों की व्यवस्था संभालता है।

रांची: झारखंड में नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। ताजा मामला ये है कि नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर कृष्णा की टीम के व्यवस्थापक टेकलाल को गिरफ्तार किया गया है। ये गिरफ्तारी उस वक्त हुई, जब टेकलाल मछलियां लेने के लिए आया था। सीआरपीएफ और पुलिस ने सिविल ड्रेस में उसकी रेकी की और फिर उसे दबोच लिया।

बता दें कि पुलिस की गिरफ्त में आए कुख्यात नक्सली (Naxalites) प्रशांत मांझी ने ये जानकारी दी थी कि टेकलाल किस्कू नाम का शख्स पारसनाथ में छिपे नक्सलियों की व्यवस्था संभालता है। इसके बाद से पुलिस उसकी तलाश में जुटी थी। पुलिस को मंगलवार शाम उसे पकड़ने में सफलता पाई।

टेकलाल किस्कू, कुख्यात नक्सली एरिया कमांडर कृष्णा हांसदा उर्फ सौरव जी उर्फ अविनाश दा की टीम के लिए व्यवस्थापक के रूप में काम करता है। जानकार बताते हैं कि टेकलाल किस्कू पीरटांड़ प्रखंड के कोंझिया गांव का निवासी है और कृष्णा हांसदा का बेहद करीबी है।

UP: शाहजहांपुर में कासगंज जैसा मामला, छेड़खानी की शिकायत पर पहुंची पुलिस पर अपराधियों ने किया हमला

वह उस समय पकड़ में आया, जब उसने हटिया स्थित एक मछली की दुकान से 30 किलो मछली तोलने के लिए कहा। उसका पीछा सिविल ड्रेस में सीआरपीएफ और स्थानीय मधुबन पुलिस के जवान कर रहे थे।

हालांकि इस मामले में कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है। हालांकि जानकारों के मुताबिक, गिरफ्तार शख्स टेकलाल किस्कू ही है और उसके साथ एक 14 साल का लड़का भी है।

बता दें कि पारसनाथ को नक्सल मुक्त कराने के लिए मधुबन सीआरपीएफ के जवानों एवं जिला पुलिस बल के जवानों ने कड़ी मेहनत शुरू कर दी है। नक्सलियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है।

हालांकि कई नक्सली सरेंडर करने के लिए भी तैयार हैं। इसका एक कारण ये है कि नक्सलियों को ये समझ में आ रहा है कि वे मुख्यधारा से जुड़कर ही विकास के रास्ते पर आगे बढ़ सकते हैं। कई कुख्यात नक्सली मुख्यधारा में अब जल्द ही आने वाले भी हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें