Budget 2020: जानिए इस बजट में हेल्थ सेक्टर के लिए क्या रहा खास…

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में बजट 2020-21 (Budget 2020) पेश किया। वित्त मंत्री ने 15वें वित्त आयोग की रिपोर्ट लोकसभा पटल पर रखी। सीतारमण ने कहा है कि अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है, महंगाई दर नियंत्रण में है और बैंकों का बही खाता साफ सुथरा हुआ है। वित्त मंत्री ने वित्त वर्ष 2020-21 का बजट (Budget 2020) पेश करते हुए हेल्थ सेक्टर के लिए कुछ बड़े ऐलान किए।

Budget 2020
वित्त मंत्री ने वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश करते हुए हेल्थ सेक्टर के लिए कुछ बड़े ऐलान किए।

Budget 2020: वित्त मंत्री ने 1 फरवरी को वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश करते हुए कहा कि हमारा मकसद लोगों की आय और खरीद क्षमता बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि 2014-19 के दौरान सरकार ने कामकाज के संचालन में बड़ा बदलाव किया है। साथ ही सीतामरण ने कहा कि मोदी सरकार किसानों आय बढ़ाने के लिए 16 एक्शन प्लान पर काम करेगी। इस प्लान के तहत राज्यों को मॉडल दिया जाएगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2020-21 का बजट (Budget 2020) पेश करते हुए हेल्थ सेक्टर के लिए कुछ बड़े ऐलान किए हैं।

– हेल्थ सेक्टर के लिए 69 हजार करोड़ का फंड प्रस्तावित है। इसमें पीएम जन आरोग्य योजना का 6 हजार, 400 करोड़ रुपया भी शामिल है।

– पीएम जनआरोग्य योजना के तहत 20 हजार से ज्यादा अस्पताल पैनल में हैं। हम इसे बढ़ाएंगे।

– टीबी हारेगा, देश जीतेगा – ये अभियान लांच किया गया है। 2025 तक टीवी की बीमारी को भारत से खत्म किया जाएगा।

– मिशन इंद्रधनुष का दायरा बढ़ाकर इनमें 12 बीमारियां ला दी गई हैं। इसमें पांच नए वैक्सीन जोड़ दिए गए हैं।

– पीएम जन आरोग्य योजना से 20 हजार से ज्यादा अस्पताल जुड़े हैं। ये आयुष्मान भारत के लाभार्थियों का इलाज करते हैं। हमें टियर 2 और टियर 3 शहरों में और पीपीपी मोड से अस्पतालों बनाए जाएंगे।

– पहले चरण में 112 आकांक्षी जिलों से इसकी शुरुआत होगी। इनमें भी जिन जिलों में एक भी अस्पताल पैनल में नहीं है, उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी। इससे बड़ी संख्या में रोजगार मिलेगा।

– मेडिकल उपकरणों पर जो टैक्स लगता है उससे मिलने वाले पैसे का उपयोग इन्हीं अस्पतालों को बनाने में किया जाएगा।

– जन औषधि केंद्र को 2024 तक हर जिले में लाया जाएगा। इनमें 2 हजार दवाइयां और 3 हजार सर्जिकल्स उपलब्ध होंगे।

– फिट इंडिया मूवमेंट भी चल रहा है। स्वच्छ भारत मिशन भी चल रहा है।

– ओडीएफ प्लस ताकि साफ-सफाई को लेकर जागरुकता बढ़ाई जाए। सॉलिड वेस्ट कलेक्शन पर फोकस रहेगा। इस वर्ष 2020-21 में स्वच्छ भारत अभियान के लिए 12,300 करोड़ रुपए निर्धारित किए गए हैं।

– हर घर तक पाइप से पानी पहुंचाने के लिए जल जीवन मिशन पर काम चल रहा है जिसे 3.6 लाख करोड़ रुपए दिए जा रहे हैं। 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में ये स्कीम इसी साल तक लागू करने का लक्ष्य है।

पढ़ें: Budget 2020: एलआईसी का बड़ा हिस्सा बेचेगी सरकार, विपक्ष ने सदन में किया हंगामा

Budget 2020 LIVE Updates: भारत अब दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी इकॉनमी, पढ़ें, अब तक की बड़ी बातें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here