Tejas

एयर चीफ मार्शल के मुताबिक, भारत अब 3D प्रिंटेड तकनीक की तरफ बढ़ रहा है। ऐशे में नई‚ किफायती और अत्यधिक क्षमता वाली टेक्नोलॉजी में निवेश प्राइवेट कंपनियों के लिए एक बड़ी चुनौती है।

विमान से मिसाइल के सफलतापूर्वक अलग होने संबंधी परीक्षणों के बाद गोवा में ‘दुश्मन' के लक्ष्य को भेदने के लिए परीक्षण किया गया। बयान में कहा गया कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ (DRDO) और परीक्षण से जुड़े सभी लोगों को बधाई दी है।

यह भी पढ़ें