रिपोर्ट: कोरोना के बावजूद 2020 में दुनिया ने हथियारों पर जमकर किया खर्च, जानें किस नंबर पर है भारत

Military Expenses: मिली जानकारी के मुताबिक, बीते एक साल में दुनियाभर का सैन्य खर्च 150 लाख करोड़ रुपए तक बढ़ गया है।

Indian Army

भारतीय सेना (फाइल फोटो)

Military Expenses: ये जानकारी स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (सिपरी) की ताजा रिपोर्ट से सामने आई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, बीते साल देशों ने सैन्य खर्च पर 146 लाख करोड़ रुपए खर्च किए।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस ने दुनियाभर में बीते एक साल से ज्यादा समय से परेशानी खड़ी कर रखी है। लेकिन फिर भी दुनिया के कई देश अपने हथियारों और सैन्य क्षमता में लगातार बढ़ोतरी कर रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, बीते एक साल में दुनियाभर का सैन्य खर्च (Military Expenses) 150 लाख करोड़ रुपए तक बढ़ गया है। अगर साल 2019 से तुलना की जाए तो इसमें 2.6  फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

साल 2020 में जिन देशों ने सबसे ज्यादा सैन्य खर्च किया है, उसमें अमेरिका, चीन, भारत, रूस और ब्रिटेन हैं।

छत्तीसगढ़: नक्सली इलाकों में दिख रहा लोन वर्राटू अभियान का असर, इनामी सहित 4 नक्सलियों ने हथियार छोड़ किया सरेंडर

अगर भारत की बात की जाए तो सैन्य खर्च के मामले में भारत दुनिया का तीसरा देश है। रूस और ब्रिटेन भी सैन्य खर्च के मामले में भारत से पीछे हैं।

ये जानकारी स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (सिपरी) की ताजा रिपोर्ट से सामने आई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, बीते साल देशों ने सैन्य खर्च पर 146 लाख करोड़ रुपए खर्च किए। कुल सैन्य खर्च का 62 फीसदी हिस्सा केवल अमेरिका, चीन, भारत, रूस और ब्रिटेन ने किया है।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत ने 2019 की तुलना में साल 2020 में अपना सैन्य खर्च 2 फीसदी ज्यादा किया है।

मिली जानकारी के मुताबिक अमेरिका का सैन्य खर्च 778  अरब डॉलर, चीन का सैन्य खर्च 252  अरब डॉलर, भारत का सैन्य खर्च 72.9  अरब डॉलर, रूस का सैन्य खर्च 61.7  अरब डॉलर और ब्रिटेन का सैन्य खर्च 59.2 अरब डॉलर है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें