झारखंड: नक्सली को आजीवन कारावास की सजा, टीचर के अपहरण और हत्या का है दोषी

झारखंड की एक अदालत ने पीपुल्स लिब्रेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) के एक नक्सली को आजीवन कारावास की सजा सुनायी है।

Naxali

झारखंड की एक अदालत ने पीपुल्स लिब्रेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) के एक नक्सली को आजीवन कारावास की सजा सुनायी है।

झारखंड (Jharkhand) की एक अदालत ने पीपुल्स लिब्रेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) के एक नक्सली (Naxali) को आजीवन कारावास की सजा सुनायी है। छह साल पहले सिमडेगा जिले में एक अध्यापक के अपहरण और हत्या के मामले में उसे यह आजीवन कारावास की सजा सुनायी गई है। अतिरिक्त जिला न्यायाधीश नीरज कुमार ने नक्सली कोलेश्वर महतो को दोषी पाया और 17 सितंबर को उसे सजा सुनाई।

Naxali

अदालत ने दोषी पर 98,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया है। एफआईआर के मुताबिक इस नक्सली (Naxali) ने अध्यापक मनोज कुमार का 26 नवंबर, 2014 को अपहरण किया और अगले दिन उनका शव एक जंगल में मिला था। मृतक के परिवार ने इस संबंध में झारखंड के पूर्व मंत्री इनोस इक्का और अन्य लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज कराया था। इक्का को पहले ही आजीवन कारावास की सजा सुनायी जा चुकी है।

पढ़ें: बीजापुर में 8 लाख के इनामी नक्सली ने किया सरेंडर, नक्सल विचारधारा से आ गया था तंग

भारत ने किया ‘अस्त्र’ का परीक्षण, 70 किमी दूर से ही कर देगी दुश्मन का काम तमाम

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें