जम्मू कश्मीर: कठुआ जिले में बड़े आतंकी वारदात की आशंका, सेना की वर्दी में दिखे हथियारबद्ध संदिग्ध

कठुआ का हीरानगर सेक्टर कईं बार सरहद पार से आतंकियों (Militants) की घुसपैठ को लेकर सुर्खियों में रहा है। जिन संदिग्धों को गत दो दिनों में इसी जिले के बनी सब डिवीजन में देखा गया है‚ आशंका जाहिर की जा रही है कि यह संदिग्ध कहीं आतंकी तो नहीं जो कि अभी हाल घुसपैठ करके किसी टारगेट को अंजाम देने के लिए निकले हों।

Militants

क्या पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) की साजिश जम्मू संभाग में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की है। आशंका यह भी हो रही है कि क्या पाक–परस्त आतंकी (Militants) किसी नरसंहार को अंजाम देने की फिराक में हैं। दरअसल‚ यह आशंकाएं इसलिए उठने लगी हैं क्योंकि कठुआ जिले में फिर हथियारबद्ध संदिग्ध जिला देखे गए हैं। सेना की वर्दी में इन संदिग्धों की संख्या करीब 7 बताई गई है।

इससे करीब एक पखवाडा पहले सांबा के जंगलो में भी संदिग्ध देखे गए थे और तब भी सघन तलाशी अभियान चला था। परंतु उन संदिग्धों का कोई अता पता नहीं चला। ठीक इसी तरह उधमपुर के धार रोड क्षेत्र में तथा नियंत्रण रेखा के जिला पुंछ में भी संदिग्ध देखे गए थे और तलाशी अभियान भी चले। परंतु कोई सफलता नहीं मिल पाई थी। तीन दिन पहले सांबा पुलिस ने स्थानीय जंगलात इलाके से एक तलाशी अभियान में गोलाबारूद और विस्फोटक बरामद किया था।

आम नागरिक ज्वॉइन कर सकेंगे आर्मी, 3 साल के लिए ‘टूअर ऑफ ड्यूटी’ देने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है भारतीय सेना

ताजा मामला जिला कठुआ के सब डि़वीजन बनी इलाके में गत दिवस सुबह सैन्य वर्दी में 7 संदिग्ध देखे गए। बल्कि इससे एक दिन पहले यहां के दुरूह क्षेत्र विदोई–दुआरी में एक मवेशी चराने वाले स्थानीय व्यक्ति को 5 हथियारबद्ध संदिग्ध मिले और उससे खाना वगैरह लेकर धमकी देकर निकल गए।

इन दोनों घटनाओं ने इलाके में लोगों के मन में भय पैदा कर दिया है। इस बावत स्थानीय सरपंच उत्तम चंद ने पुलिस को जानकारी दी तो पुलिस व सुरक्षाबलों ने सघन तलाशी अभियान चलाया। लेकिन संदिग्धों की बावत कोई जानकारी अथवा कामयाबी नहीं मिल पाई। जिला एसएसपी ड़ा. शैलेंद्र मिश्रा के मुताबिक समूचे क्षेत्र में गश्त बढ़ाने के साथ पैनी नजर रखी जा रही है।

इस इलाके की भौगोलिक स्थिति दुर्गम पहाडियों व गहरी खाइयों से पटी पड़ी है। जोकि चिनाब वैली के भद्रवाह क्षेत्र से सटी है। यह इलाका 90 के दशक में आतंकियों (Militants) के निशाने पर रहा है। जिला कठुआ का हीरानगर सेक्टर कईं बार सरहद पार से आतंकियों (Militants) की घुसपैठ को लेकर सुर्खियों में रहा है। जिन संदिग्धों को गत दो दिनों में इसी जिले के बनी सब डिवीजन में देखा गया है‚ आशंका जाहिर की जा रही है कि यह संदिग्ध कहीं आतंकी तो नहीं जो कि अभी हाल घुसपैठ करके किसी टारगेट को अंजाम देने के लिए निकले हों।

    Tags:

यह भी पढ़ें