लोहरदगा: लेवी नहीं मिला तो व्यापारी के नाम खत छोड़ गए नक्सली, गोलियां बरसा शहर में फैलाई दहशत

झारखंड के लोहरदगा में नक्सली बेखौफ होकर घूम रहे हैं। अब नक्सलियों ने यहां लेवी के लिए जमकर गुंडागर्दी दिखाई है। लोहरदगा शहर के रिहायशी इलाके में घुसकर नक्सलियों ने ना सिर्फ लेवी मांगी बल्कि जमकर बवाल भी काटा। जानकारी के मुताबिक शहर के हरमू रोड स्थित एक सीमेंट के कारोबारी के यहां कुछ ही दिनों पहले कथित तौर से कई नकाबपोश नक्सली रंगदारी वसूलने पहुंचे। बताया जा रहा है कि यह नक्सली खूंखार संगठन पीएलएफआई के सदस्य थे।

नक्सलियों ने यहां लिखित रुप से धमकी दी है। दरअसल नकाबपोशों को यहां लेवी की रकम नहीं मिली जिसके बाद जाते-जाते नक्सलियों ने यहां एक खत छोड़ा। इस खत में नक्सलियों ने लिखा है कि ‘आप आर्थिक रूप से संपन्न हैं, इसलिए गरीब जनता के हित के लिए 40 लाख रुपए की लेवी चार दिनों के अंदर संगठन के पास जमा करना होगा।’ ऐसा नहीं करने पर नक्सलियों ने कार्रवाई की धमकी भी दी है। यहां से जाते-जाते नक्सलियों ने जमकर गोलीबारी भी की है।

दिनदहाड़े हुई इस गोलीबारी से इलाके में सनसनी मच गई। इलाके के लोग गोलियों की आवाज सुन दहशत में आ गए।  बताया जा रहा है कि हवा में हथियार लहराते हुए नक्सली बड़ी ही आराम से यहां से निकल गए और पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। नक्सलियों ने जिस व्यापारी से लेवी मांगी है उनका नाम राजेंद्र राम है। राजेंद्र राम खुद इस वक्त दहशत में हैं। उनका कहना है कि इससे पहले कभी भी नक्सलियों की तरफ से उनसे लेवी नहीं मांगी गई थी।

लोहरदगा के शहरी इलाकों में खुलेआम नक्सलियों का यह तांडव भी कई लोगों को चौंका रहा है। बहरहाल इस मामले में अब पुलिस का कहना है कि वो इसकी जांच कर रही है। सभी नकाबपोशों के बारे में जानकारियां इकठ्ठा की जा रही हैं। बता दें कि जो खत नक्सलियों ने यहां छोड़ा है उसपर पीएलएफआई के नक्सली राजेश जी का नाम दर्ज है।

यह भी पढ़ें: खत लिखकर नक्सलियों ने BDO से मांगी 5 लाख रुपए की लेवी, प्रशासन में हड़कंप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here