सैन्य खर्च के मामले में तीसरा सबसे बड़ा देश बना भारत, रूस और सऊदी अरब को छोड़ा पीछे

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (सिप्री) ने कहा कि यह पहली बार है जब भारत (India) और चीन दो एशियाई ताकतें सैनिक साजो–सामान पर अधिक खर्च करने वाले दुनिया के शीर्ष तीन देशों में शामिल हुई हैं।

India

सैन्य खर्च के मामले में भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा देश बन गया है।

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (सिप्री) ने कहा कि यह पहली बार है जब भारत (India) और चीन दो एशियाई ताकतें सैनिक साजो–सामान पर अधिक खर्च करने वाले दुनिया के शीर्ष तीन देशों में शामिल हुई हैं। शोध संस्थान की इस रिपोर्ट के अनुसार 2019 में वैश्विक सैन्य खर्च (Military Spenders) 1,917 अरब डॉलर रहा जो 2018 के सैन्य खर्च के मुकाबले 3.6 प्रतिशत अधिक है।

सैन्य खर्च में बढ़ोतरी की यह 3.6 प्रतिशत वृद्धि दर 2010 के बाद सबसे अधिक है। शिया के दो बड़े देश चीन और भारत (India) सैन्य खर्च (Military Spenders) में अधिक वृद्धि वाले तीन शीर्ष देशों में शामिल हुए हैं। इस दौरान चीन का सैन्य खर्च 2018 के तुलना में 5.1 प्रतिशत बढ़कर 261 अरब डॉलर रहा।

गढ़चिरौली: नक्सल प्रभावित इलाके में CRPF के जवान कर रहे सैनिटाइजेशन, मास्क सिल बचा रहे कई जिंदगानियां

वहीं भारत का सैन्य खर्च 6.8 प्रतिशत बढ़कर 71.1 अरब डॉलर पर पहुंच गया। रिपोर्ट के मुताबिक सबसे अधिक सैन्य खर्च करने वाले दुनिया के पांच शीर्ष देशों में अमेरिका‚ चीन‚ भारत के बाद रूस चौथे और सऊदी अरब पांचवे स्थान पर है।

देखें वीडियो-

यह भी पढ़ें