TPC

झारखंड में नक्सलियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई हो रही है। टीपीसी (TPC) के उग्रवादी पुलिस के निशाने पर हैं और उनके खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है।

झारखंड में इन दिनों भाकपा माओवादियों के साथ साथ टीपीसी के कई कुख्यात उग्रवादियों के खिलाफ एनआईए ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है।

पुलिस और नक्सली संगठन टीपीसी के सदस्यों में शनिवार को जमकर मुठभेड़ हुई। पुलिस को भारी पड़ता देख नक्सली वहां से भागने लगे।

मारे गए उग्रवादी का नाम दीपक यादव है और वह टीपीसी (TPC) का जोनल कमांडर था। मृतक उग्रवादी झारखंड के पलामू जिले का रहने वाला है।

टीपीसी (TPC) के उग्रवादियों द्वारा लगातार लेवी की मांग और अन्य नक्सली घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। टीपीसी के उग्रवादियों में कोई खौफ नहीं है।

Jharkhand: एक तरफ लोग दशहरा पर्व मनाने अपने घर आए हुए हैं, वहीं दूसरी तरफ टीपीसी उग्रवादियों की कायराना हरकत थम नहीं रही है।

Jharkhand के लातेहार में टीपीसी उग्रवादियों ने पर्चा फेंककर जेजेएमपी को चुनौती दी है और कहा है कि जेजेएमपी गुंडागर्दी करने वालों का गिरोह है

झारखंड (Jharkhand): रांची पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने टीपीसी के एरिया कमांडर रमेश उर्फ पहाड़ी को गिरफ्तार कर लिया है।

टीपीसी के कई उग्रवादी देखते ही देखते अमीर बन गए हैं। इन लोगों का साथ परियोजना के कुछ आला अधिकारी और ट्रांसपोटर्स दे रहे हैं। ये सभी NIA के रडार में हैं।

यह भी पढ़ें