Terrorist

सुरक्षाबलों को इलाके में आतंकियों (Militants) के छिपे होने की जानकारी मिली थी जिसके बाद सेना की 22 आरआर, एसओजी सोपोर और सीआरपीएफ 179, 177 और 92 बटालियन की एक संयुक्त टीम ने वारपोरा में घर-घर में बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन चलाया।

पुलवामा में छिपे हुए आतंकवादियों की तरफ से लगातार हो रही फायरिंग की जवाबी कार्रवाई में दो अलग-अलग जगहों पर सुरक्षाबलों ने चार आतंकवादियों को ढेर कर दिया।

Drones: जम्मू कश्मीर में आतंकी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। आतंकियों ने एक बार फिर ड्रोन से सैन्य ठिकाने पर हमला करने की कोशिश की है।

Jammu and Kashmir: आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई है। खबर लिखे जाने तक इस मुठभेड़ में एक आतंकी के मारे जाने की सूचना मिली है।

ये खबर इसलिए भी ज्यादा बड़ी है, क्योंकि जिस इलाके में धमाका हुआ है, वहां कुख्यात आतंकी हाफिज सईद रहता था। कहा जा रहा है कि इसी इलाके में हाफिज सईद का घर है।

Jammu and Kashmir: ये घटना तब हुई जब इंस्पेक्टर परवेज अहमद कनीपोरा इलाके में नमाज पढ़कर वापस आ रहे थे। आतंकियों ने उन पर पीछे से हमला किया।

अलकायदा का सरगना रहा ओसामा बिन लादेन शहीद था या आतंकी? ये सवाल इस समय चर्चा में बना हुआ है और इसकी वजह हैं पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी।

श्रीनगर के नौगाम इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। इस बीच जवानों ने एक आतंकी (Terrorist) को मार गिराया है

देश के सबसे बड़े अर्धसैनिक बल सीआरपीएफ को अब और मजबूत बनाया जाएगा। डीजी कुलदीप सिंह (DG Kuldeep Singh) ने इसके लिए रणनीति तैयार कर ली है।

एक तरफ खुद को आतंक पीडित बताकर पाकिस्तान एफएटीएफ से बचता आ रहा है। ये पूरी तैयारी पाकिस्तानी हुकूमत ने आईएसआई और सेना के साथ मिलकर की है।

पाकिस्तान में ट्रेनिंग पाए आतंकी अबू दूजाना और अबू कासिम के साथ पारा के संबंधों का विस्तार से जिक्र है जो सुरक्षाबलों के साथ अलग–अलग मुठभेड़ों में मारे जा चुके हैं।

चानपुरा में सरकारी आवासीय परिसरों के पास स्टील के कंटेनर में छिपाकर रखा गया संदिग्ध आईईडी (IED Bomb) खोजा गया, जिसका वजन करीब 10 किलोग्राम था।

29 मई को आतंकी (terrorist) मोहम्मद अमीन मलिक निवासी नागाबल मरहामा ने पुलिस के सामने सरेंडर किया था, क्योंकि उसके घर से विस्फोटक और रायफल बरामद हुई थी।

वहीं उत्तरी कश्मीर के बारामुला के कुंजर गांव में इसी दौरान ग्रामीणों ने गांव के बाहरी छोर पर एक जंग लगा बम देखा। फौरन बम निरोधक दस्ते ने बम को अपने कब्जे में लेकर उसे सुरक्षित जगह पर निष्क्रिय कर दिया।

घाटी में आतंकियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान का असर यह हुआ है कि आतंकियों के पास पैसों की भारी कमी हो गई है।

खुफिया सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी सेना जेल से भी आतंकी बनाने का दांव खेल रही है। पाक जेल में बंद मुजरिम की सजा माफ करना और रिहाई का आश्वासन देते हुए पैसे का भी लालच दिया जा रहा है।

जनरल बाजवा के मुताबिक, पूर्व और पश्चिम एशिया के बीच संपर्क सुनिश्चित करके ‘‘मध्य और दक्षिण एशिया की क्षमता को खोलने के लिए’’ भारत और पाकिस्तान के बीच शांति का माहौल होना बहुत आवश्यक है।

यह भी पढ़ें