Surgical Strike

भारतीय सेना (Indian Army) दुश्मनों का खात्मा करने के लिए हमेशा तत्पर रहती है। हमारे वीर सपूतों ने कई मौकों पर इसे साबित किया है। भारतीय सेना और भारतवासियों के लिए 26 फरवरी, 2019 की रात 3.30 बजे का समय गौरव महसूस करने वाला था।

भारतीय सेना (Indian Army) जब-जब जंग दुश्मनों के खिलाफ उतरती है, उन्हें नेस्तनाबूद करके ही लौटती है। भारतीय सेना ने अबतक सिर्फ एक ही युद्ध हारा है। यह युद्ध 1962 में चीन के खिलाफ लड़ा गया था।

भारतीय सेना (Indian Army) के कमांडोज बेहद ही खतरनाक और हर चुनौती का सामना करने में सक्षम होते हैं। कमांडोज का नाम सुनते ही दुश्मन की आत्मा तक कांप उठती है।

भारतीय सेना  (Indian Army) के कमांडोज ने साल 2016 में 28-29 सितंबर की रात को पाकिस्तानी आतंकवादियों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक की थी। पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) में घुसकर हमारे सैनिकों ने पाकिस्तान के कई आतंकी लॉन्च पैड्स को तबाह कर दिया था।

पाकिस्तान (Pakistan) पर ईरान (Iran) ने सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) को अंजाम दिया गया था। ईरान ने पाकिस्तान के अंदर घुसकर आतंकियों को मारा और अपने दो सैनिकों को मुक्त करा लिया था।

Surgical Strike: ईरान के रिवाल्‍यूशनरी गार्ड्स ने पाकिस्‍तानी आतंकी संगठन जैश अल-अदल के ठिकाने पर हमला किया और 2.5 साल से कैद अपने सैनिकों को छुड़ा लिया।

18 सितंबर, 2016 को हुए उरी हमले में सीमा पार बैठे आतंकियों का हाथ बताया गया। भारत ने इस हमले का बदला लेने के लिए 28-29 सितंबर की दरम्यानी रात को पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) को अंजाम दिया।

पिछले 4 दिनों में 200 से अधिक जमात-ए-इस्लामी जम्मू-कश्मीर के नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। जमात पर ये अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है।

पाकिस्तान ने एलओसी पर फिर सीजफायर का वायलेशन किया है। भारत ओर से इसका मुंहतोड़ जवाब दिया गया।

यह भी पढ़ें