Sukma

विकास के दुश्मन नक्सलियों (Naxals) ने जानबूझ कर गांव वालों को अंधेरे में रहने के लिए मजबूर कर रखा था। लेकिन अब 'सौभाग्य योजना' के तहत यहां के गांवों में सोलर होम लाईट की सुविधा पहुंचाई गई है।

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों (Naxals) के सबसे बड़े नेताओं में से एक रमन्ना की मौत का मातम मनाने के बाद नक्सली सुकमा क्षेत्र में बड़ी हिंसक वारदातों को अंजाम देने की फिराक में थे।

छत्तीसगढ़ के धुर नक्सल (Naxal) प्रभावित बस्तर में पुलिस नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत मजबूत रणनीति के साथ काम कर रही है। इसका सीधा असर नक्सलवाद से जुड़े लोगों पर पड़ रहा है।

नक्सलियों ने खाने का सामान लूटने के लिए भेज्जी क्षेत्र में ग्रामीणों की गाड़ियां रोक ली थी। इसके चलते सड़क पर जाम लग गया। सूचना मिलने पर डीआरजी के जवान रास्ता खुलवाने के लिए पहुंचे थे।

छत्तीसगढ़ के सुकमा (Sukma) जिले में 11 नवंबर को इनामी नक्सली सहित 9 नक्सलियों ने सरेंडर कर दिया। ये लोग नक्सलियों के तौर तरीकों और उनकी खेखली विचारधारा से तंग आ चुके थे।

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में सुरक्षा बल के जवानों ने तीन नक्सलियों को गिरफ्तार किया। इन नक्सलियों को तोंगपाल थाना क्षेत्र के उपलंका और जुनापानी के जंगलों से पकड़ा गया।

नक्सल संगठनों की दोहरी नीतियों से आजीज आकर छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में नौ नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्समर्पण कर दिया है। पुलिस के अनुसार, नक्सलियों बंजाम राजा, बंजाम आयता, मडकम सुला, किच्चे गंगा, मडकम मुक्का, बंजाम सोमडू, मडकम भीमा, पोज्जा उर्फ पोदिया और बण्डो केशा ने आत्मसमर्पण कर दिया है।

छत्तीसगढ़ के धमतरी पुलिस ने कुछ नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि ये नक्सली लोकसभा चुनाव के दौरान जिले में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। पकड़े गए नक्सलियों में पांच लाख रूपए का इनामी नक्सली अजीत मोडियाम और उसका साथी रामसू कुंजाम शामिल है।

नक्सल संगठन द्वारा शोषण से तंग आकर दो महिला नक्सलियों समेत 10 नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। आत्समर्पण करने वाले नक्सली अपने संगठन के नेताओं के शोषण एवं प्रताड़ना से तंग आ चुके थे। इसलिए आत्मसमर्पण करने का फैसला लिया। ये सभी नक्सली सुकमा जिले के कोंटा थाना में बालेंगतोंग गांव के रहने वाले थे।

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में हुई एक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने चार नक्सलियों को ढेर कर दिया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सुकमा जिले के चिंतलनार थाना क्षेत्र के करकनगुड़ा गांव के पास के जंगल में 26 मार्च की सुबह लगभग छह बजे मुठभेड़ हुई, जिसमें चार नक्सली मारे गए।

“हर रोज गिर कर भी मुकम्मल खड़े हैं, ऐ जिंदगी देख मेरे हौसले तुझसे भी बड़े हैं…” जी हां, कुछ...