Rajiv Gandhi

श्रीलंका में चल रहे लिट्टे और सिंहलियों के बीच युद्ध को शांत करने के लिए राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) ने भारतीय शांति सेना को श्रीलंका में तैनात कर दिया। अपने राजनीतिक फैसलों में कट्टरपंथियों को नाराज कर चुके राजीव गांधी पर श्रीलंका में सलामी गारद के निरीक्षण के दौरान हमला किया गया, लेकिन वे बाल-बाल बच गए