Palamu

झारखंड के नक्सल-ग्रस्त पलामू (Palamu) जिले के विभिन्न इलाकों में नक्सली सादी वर्दी में घूम रहे हैं। ये नक्सली दूसरे राज्यों और केंद्र से आए जवानों की रेकी कर रहे हैं।

एसपी अजय लिंडा के मुताबिक, एक गुप्त सूचना के आधार पर रांची के कामड़े से पुलिस ने देववंश को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार नक्सली आठ वारदातों का मुख्य आरोपी है।

नक्सलियों ने इस पत्र में सांसद संतोष पांडेय को धमकी देते हुए लिखा है कि आप आदिवासियों से दूर रहें वरना आपकी हत्या कर दी जाएगी। विकास की बात आप शहरों में जाकर करें।

2011 में मध्य विद्यालय परछा के भवन को बारूदी सुरंग से विस्फोट कर उड़ाने, अमहुआ में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ समेत अन्य नक्सली वारदातों में इन नक्सलियों का हाथ रहा है। पुलिस को इनकी तलाश पिछले आठ सालों से थी।

सात साल से फरार नक्सली लोबो सुरीन को छोटानागरा पुलिस ने गिरफ्तार कर 5 सितंबर को जेल भेज दिया। इस नक्सली को सलाई बाजार से गिरफ्तार किया गया।

कमांडोज फॉर रेलवे सिक्योरिटी (CORAS) इसी साल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लॉन्च हुआ है। रेलवे ने बेहतर सुरक्षा और संपत्तियों के संरक्षण के लिए इन कमांडोज को देश के अलग-अलग इलाकों में ट्रेनिंग दी गई है।

झारखण्ड में नक्सलियों ने 25 अप्रैल रात करीब 12:25 बजे हमला कर भाजपा कार्यालय को बम से उड़ा दिया। घटना झारखण्ड के पलामू जिले के हरिहरगंज बाजार की है। जहां नक्सलियों ने पुराना बस स्टैंड स्थित बीजेपी कार्यालय पर हमला किया और कार्यालय को बम से उड़ा दिया। लोकसभा चुनाव के दौरान झारखंड में यह पहली उग्रवादी घटना है।

यह भी पढ़ें