NIA

पकड़े गए आतंकियों (terrorists) में एक का नाम शोएब है, वह मूल रूप से केरल का निवासी है। दूसरा आतंकी मूल रूप से यूपी का बताया जा रहा है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने विशाखापत्तनम जासूसी मामले में पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) के लिए जासूसी करने और उसके लिए काम करने के आरोप में एक शख्स को गिरफ्तार किया है।

NIA के एक अधिकारी के मुताबिक, ये कार्रवाई गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून के तहत की जा रही है। इसमें अचल संपत्तियों को कुर्क करने का आदेश दिया गया है।

एनआईए के अधिकारी के मुताबिक, इस शख्स का नाम राजकभाई कुम्भर है और वह गुजरात के पश्चिमी कच्छ का निवासी है। वह ISI एजेंट है।

पुलवामा में पिछले साल फरवरी में सीआरपीएफ (CRPF) के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले (Pulwama Attack) में शामिल जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों (Terrorists) ने हमले का वीडियो बनाने की भी योजना बनाई थी।

जैश-ए-मोहम्मद, अल-कायदा और तालिबान ने मिलकर पुलवामा हमले (Pulwama Attack) की साजिश रची थी। इस बात का खुलासा एनआइए (NIA) द्वारा दायर किए गए आरोप पत्र से हुआ है।

पुलवामा हमले (Pulwama Attack) में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (National Investigation Agency)ने चार्जशीट दायर कर दी है। यह चार्जशीट 13,500 पन्नों की है। इस चार्जशीट में एनआईए (NIA) ने 13 लोगों को आरोपी बनाया है।

टीपीसी के कई उग्रवादी देखते ही देखते अमीर बन गए हैं। इन लोगों का साथ परियोजना के कुछ आला अधिकारी और ट्रांसपोटर्स दे रहे हैं। ये सभी NIA के रडार में हैं।

NIA के एक प्रवक्ता ने बताया कि एजेंसी ने 28 जुलाई को दंतेवाड़ा के रहने वाले तीन युवकों को गिरफ्तार किया है।

टेरर फंडिंग केस में एनआइए अबतक 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं, इस मामले में अबतक दिनेश गोप की तलाश पुलिस को है।

गिरिडीह से एनआईए (NIA) ने भाकपा माओवादियों से जुड़े टेरर फंडिंग (Terror Funding) केस में 25 लाख के इनामी नक्सली सुनील मांझी उर्फ सुनील सोरेन को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सली सुनील भाकपा माओवादी की झारखंड-बिहार स्पेशल एरिया कमेटी ( सैक) का सदस्य है।

झारखंड (Jharkhand) के रांची में नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ कामयाबी हाथ लगी है। एनआईए (NIA) ने टेरर फंडिंग (Terror Funding) मामले में 14 जुलाई को बड़ी कार्रवाई करते हुए गुमला जिले से पीएलएफआई (PLFI) नक्सली फुलेश्वर गोप को गिरफ्तार किया है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने संदिग्ध आतंकी तानिया प्रवीण को कोलकाता में हिरासत में ले लिया। बता दें कि तानिया को कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने इसी साल 18 मार्च को गिरफ्तार किया था।

टेरर फंडिंग (Terror Funding) के मामले में झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची से एनआईए (NIA) के हत्थे चढ़े कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारी मनोज चौधरी ने कई राज उगले हैं।

झारखंड (Jharkhand) में रामकृपाल कंस्ट्रक्शन कंपनी का नक्सलियों (Naxals) से कनेक्शन सामने आया है। एनआईए (NIA) ने कंपनी के एक कर्मचारी का नक्सलियों के साथ संबंध होने के खुलासे के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने नक्सलियों (Naxals) की अवैध संपत्ति से जुड़े मामले में एक शख्स को कोलकाता से गिरफ्तार किया है। झारखंड  (Jharkhand) में नक्सलियों के निवेशक मनोज चौधरी को एनआईए ने 1 मई को कोलकाता से गिरफ्तार कर रांची ले आई।

छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में भीमा मंडावी (Bhima Mandavi) हत्याकांड मामले में NIA ने दो नक्सलियों (Naxalites) को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सलियों के नाम भीमा ताती और मड़काराम ताती बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें