Loc

ड्रोन पोस्ट से उड़ने वाला जो ड्रोन भारतीय सीमा में दाखिल होगा‚ उसके जरिए पाक न सिर्फ पैसे कमाने की तैयारी में है‚ बल्कि भारत में फिर से दहशत फैलाने की कोशिश की भी रणनीति बनाई है।

पुंछ के पास स्थित बॉर्डर पर पाकिस्तान (Pakistan) बड़ी संख्या में सेना के अतिरिक्त जवानों को तैनात कर रहा है और हथियारों की संख्या को भी बढ़ा जा रहा है।

सीमा सुरक्षा बलों (BSF) के जवानों ने पाकिस्तान की इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। पाकिस्तान की गोलीबारी में किसी के हताहत या किसी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं है।

नवाज के प्रवक्ता के मुताबिक, पाकिस्तान कश्मीर को हमेशा विवादित क्षेत्र मानता आया है लेकिन कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) के बयान से ऐसा लग रहा है कि उन्होंने पाकिस्तान के रुख से यू-टर्न मार लिया है।

आरएसपुरा के एक अग्रिम गांव कोरोटाना के युवा किसान रोहित चौधरी का कहना है कि पाकिस्तान (Pakistan) की कथनी और करनी में हमेशा से विरोधाभास रहा है।

पाक नागरिक बॉर्डर के बाड को पार करने के की कोशिश कर रहा था। उसे रुक जाने की चेतावनी दी गई लेकिन उसने ध्यान नहीं दिया। उसके बाद, उस पर गोली चलाई गई जिसके कारण वह थोड़ा घायल हो गया

शाहिद नावेद की गिरफ्तारी से पहले उसके एक अन्य सहयोगी शेर अली को भी तब गिरफ्तार किया गया था, जब वह कुवैत सरकार द्वारा डीपोर्ट किए जाने के बाद भारत पहुंचा था।

लेह में बढ़ते भारतीय सैन्य ताकत को देखते हुए चीन के इशारे पर लेह के दूसरी ओर गिलगित–बाल्टिस्तान में स्कर्दू तक पहुंचने के लिए चीन की तकनीक की मदद से पाकिस्तान पुरानी सड़कों की जल्द से जल्द मरम्मत करने में जुटा है।

इस सीजन में घुसपैठ के लिए लॉन्च पैड और उसके आसपास के इलाकों में आतंकी‚ उनके गाइड और पोर्टर्स की हरकतें तेज हो गई हैं। ये लोग घुसपैठ के लिए लगातार रेकी करते नजर आ रहे हैं।

जनरल बाजवा के मुताबिक, पूर्व और पश्चिम एशिया के बीच संपर्क सुनिश्चित करके ‘‘मध्य और दक्षिण एशिया की क्षमता को खोलने के लिए’’ भारत और पाकिस्तान के बीच शांति का माहौल होना बहुत आवश्यक है।

आतंकियों (Terrorists) के खिलाफ कार्रवाई के दौरान गोली लगने से सेना (Indian Army) के जवान त्रिवेश प्रकाश तिवारी शहीद हो गए। शहीद त्रिवेश प्रकाश तिवारी (Martyr Trivesh Prakash Tiwari) महज 24 साल के थे।

भारत और पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा (LoC) पर और अन्य क्षेत्रों में संघर्ष विराम (Ceasefire) पर सभी समझौतों का सख्ती से पालन करने पर सहमति जताई है। इस सिलसिले में दोनों ने संयुक्त बयान भी जारी किया।

Indian Army: ऐसी कई सरहदें हैं जहां इस तरह की चुनौतियों से जवानों को दिन रात जूझना पड़ता है। ये ऐसी जगह होती हैं जहां जन-जीवन का नामोनिशान नहीं होता।

सरहद पर दुश्मन सुरंग के जरिए हमारे देश में दाखिल होकर बड़ा हमला करने की फिराक में रहते हैं। ऐसे कई मामले सामने आते रहते हैं जिनमें सुरंग के जरिए भारतीय सरजमीं पर आने में दुश्मनों ने कामयाबी हासिल की हो।

जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में पाकिस्तान की ओर से हुई फायरिंग में भारतीय सेना (Indian Army) का एक जवान शहीद हो गया है। वह महज 21 साल के थे।

सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने 23 जनवरी को जम्मू के हीरानगर सेक्टर के पानसर इलाके में आतंकियों की एक बड़ी साजिश नाकाम कर दी। BSF ने इलाके में एक और सुरंग का पता लगाया है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुंछ में पुलिस (Police) और एसओजी (SOG) के जवानों ने पाकिस्तान से लगती नियंत्रण रेखा (LoC) पर बेतार नदी पार कर इस पार पहुंचे एक नाबालिग लड़के को पकड़ा है।

यह भी पढ़ें