Lashkar-e-Taiba

इस साल घाटी में लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) से सबसे अधिक आतंकवादी मारे गए। इस महीने अब आतंकियों के खिलाफ नौ मुठभेड़ हुईं, जिनमें 22 आतंकी मारे गए।

बडगाम पुलिस और सेना की 53 आरआर ने ज्वाइंट ऑपरेशन के तहत इस कार्रवाई को अंजाम दिया है। दरअसल पुलिस और सेना की संयुक्त नाका पार्टी चेकिंग कर रही थी।

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर हुए ड्रोन हमलों (Drone Attack) को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। यह खुलासा जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के डीजीपी दिलबाग सिंह ने 2 जुलाई को किया।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने दरभंगा रेलवे स्टेशन धमाके के मामले में 30 जून को लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया।

लाहौर (Lahore) के एंटी टेरर कोर्ट ने 8 जनवरी को 26/11 मुंबई हमले के मास्‍टरमाइंड और लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के आतंकी जकीउर रहमान लखवी (Zakiur Rehman Lakhvi) को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है।

पाकिस्तान (Pakistan) में मुंबई हमले (Mumbai Attack) के मास्टरमाइंड और लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के ऑपरेशन कमांडर जकी-उर-रहमान लखवी (Zakiur Rehman Lakhvi) की गिरफ्तारी का अमेरिका (America) ने स्वागत किया है।

कुलगाम पुलिस और 34 राष्ट्रीय रायफल्स ने मिलकर एक ऑपरेशन को अंजाम दिया है। इस ऑपरेशन के तहत आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के एक सहयोगी को गिरफ्तार किया गया है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में पुलिस (Police) को आतंकियों (Terrorists) के खिलाफ कामयाबी मिली है। पुलिस ने यहां लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के एक आतंकी (Terrorist) को गिरफ्तार किया है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आतंक के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जारी है। इस बीच कुलगाम में जवानों को बड़ी कामयाबी मिली है। यहां लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के दो आतंकियों ने सुरक्षाबलों के सामने सरेंडर (Terrorists Surrender) कर दिया।

जम्‍मू-कश्मीर के कुलगाम में 29 अक्टूबर को आतंकियों ने BJP के तीन नेताओं की हत्या कर दी। आतंकी संगठन द रेजिस्टेंस फ्रंट (TRF) ने इसकी जिम्मेदारी ली है। इस आतंकी संगठन का नाम कम ही सुना गया है।

उस अंधेरी रात में जल्द ही फुरकान उसकी आंखों से दूर हो गया। ऋषभ के दिल में किसी अनहोनी का अंदेशा अब भी था। लाइन ऑफ कंट्रोल पर Indian Army हमेशा मुस्तैद थी। ऐसे में रात को किसी भी तरह की हरकत होती देख कर उनका कार्रवाई करना लाज़िमी था।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में सुरक्षाबल आतंकियों के खिलाफ लगातार ऑपरेशन चला रहे हैं। एनकाउंटर में आतंकी (Terrorist) मारे जा रहे हैं। साथ ही आतंकियों की धर-पकड़ भी जारी है।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के राजौरी में लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के 3 आतंकियों (Terrorists) को सुरक्षाबलों ने गिरफ्तार किया है। इन आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला और बारूद भी बरामद किए गए हैं।

Jammu and Kashmir: ये सभी लोग आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के लिए काम करते थे और आतंकियों को तमाम तरह से मदद पहुंचाया करते थे।

दिन भर शाज़िया सिर्फ़ हूजेफ़ा को ख़त्म करवाने का प्लान बनाती। अविनाश नहीं चाहता था कि शाज़िया के घर में एनकाउंटर हो लेकिन शाजिया को तो जैसे कोई भी डर नहीं था। बस एक जुनून था उसके सिर पर।

सपोर पुलिस ने 52 राष्ट्रीय राइफल्स और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के साथ मिलकर पोटका मुक्कम और चन्नपोरा अथोरा में कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन (CASO) शुरू किया। इस दौरान लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-taiba) के आतंकियों (Terrorists) के 4 सहयोगियों को गिरफ्तार किया गया।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने संदिग्ध आतंकी तानिया प्रवीण को कोलकाता में हिरासत में ले लिया। बता दें कि तानिया को कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने इसी साल 18 मार्च को गिरफ्तार किया था।

यह भी पढ़ें