Ladakh

भारतीय सैनिकों ने लद्दाख में पैंगोंग त्सो झील के दक्षिणी किनारे पर चीन के एक सैनिक (Chinese Soldier) को पकड़ा है। सूत्रों के मुताबिक, चीन का सैनिक 8 जनवरी  तड़के पकड़ा गया।

भारतीय जवान जमा देने वाली सर्दी में भी सरहदों की निगहबानी में डटे हैं, जबकि चीनी सैनिकों की हालत खराब हो गई है। इसलिए चीन (China) को अपनी रणनीति बदलनी पड़ रही है।

लद्दाख (Ladakh) में चीन (China) के साथ चल रहे तनाव के मद्देनजर सेना (Army) के जवानों को जरूरी तकनीकियों से लैस किया जा रहा है। लेह (Leh) में मौसम विभाग के बुनियादी ढांचा को एडवांस किया जा रहा है।

भारत और चीन के बीच लद्दाख में चल रहे विवाद को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। दोनों देश विवाद को आपसी बातचीत के जरिए सुलझाने पर सहमत हो गए हैं।

LAC पर तनाव को लेकर आज भारत और चीन के बीच एक बार फिर कोर कमांडर स्तर की बातचीत हो रही है। आज चुशूल में कोर कमांडर स्तर की आठवें दौर की बातचीत हो रही है।

कुनकुरी के हर्राडांड़ पंचायत के करमटोली गांव में सूचना आई कि शनिवार 30 अक्टूबर की रात 8 बजे लद्दाख में आर्मी की गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया।

Abhishek Sahu को सैनिक अस्पताल में ले जाया गया, लेकिन खून ज्यादा बहने की वजह से उन्हें बचाया नहीं जा सका। अभिषेक के पिता की 20 साल पहले ही मौत हो चुकी है।

India China Dispute: भारत-चीन के बीच लद्दाख में गतिरोध जारी है। लेकिन अब खबर सामने आ रही है कि लद्दाख में पड़ने वाली ठंड ने चीनी सेना के होश उड़ा दिए हैं।

लद्दाख में LAC पर भारत और चीन (China) के बीच तनाव बरकरार है। तमाम दौर की बातचीत के बाद भी ये तनाव कम होने का नाम नहीं ले रहा है।

लद्दाख के कारगिल इलाके को कश्मीर घाटी से जोड़ने वाली जोजिला टनल (Zojila tunnel) के निर्माण का काम शुरू हो गया है। इस टनल की लंबाई 14.15 किलोमीटर है।

लद्दाख में पड़ रही ठंड ने चीनी सेना को बड़ा नुकसान पहुंचाया है। पैंगोग झील के उत्तरी किनारे पर चीनी (China) सैनिकों को ठंड की वजह से जान गंवानी पड़ रही है।

लद्दाख (Ladakh) में भारत और चीन के बीच जारी तनातनी के बीच एक नई खबर सामने आई है। अब लद्दाख में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) 2 साल में 45 नए पुल बनाएगा।

लद्दाख में भारत और चीन के बीच गतिरोध जारी है। इस बीच पूर्वी लद्दाख में सेना की फायर एंड फ्यूरी कोर (14 कोर) की कमान लेफ्टिनेंट जनरल पीजेके मेनन को दी गई है।

राजनाथ ने कहा, 'इन पुलों के निर्माण से सैन्य और नागरिक परिवहन की सुविधा बढ़ेगी।' बता दें कि 44 पुलों में से 22 पुल चीन सीमा के पास हैं।

भारतीय सेना लगातार अपनी ताकत बढ़ा रही है। शनिवार को जम्मू कश्मीर और लद्दाख के 301 युवा भारतीय सेना में शामिल हो गए।

India China Tension: एयर चीफ मार्शल भदौरिया ने कहा कि वायुसेना किसी भी हालात का जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार है। न युद्ध और न शांति की स्थिति है।

भारत का स्टैंड साफ है कि हम ए टू जेड पूरे पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) की बात कर रहे हैं। मई में चीन  (China) ने पैंगोंग इलाके में घुसपैठ की कोशिश की थी लेकिन देपसांग की दिक्कत उससे काफी पहले की है।

यह भी पढ़ें