LAC

सेना (Army) के आला अफसर पूर्वी लद्दाख में LAC पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच 26 अक्टूबर को लद्दाख और आसपास के इलाकों में युद्ध की तैयारियों का जायजा लेंगे।

लद्दाख में LAC पर भारत और चीन (China) के बीच तनाव बरकरार है। तमाम दौर की बातचीत के बाद भी ये तनाव कम होने का नाम नहीं ले रहा है।

चीन अपनी चालबाजियों से बाज नहीं आ रहा। उसने शर्त रखी थी कि पहले भारतीय सेना (Indian Army) पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर ऐडवांस्‍ड पोजिशंस से वापस जाए। लेकिन भारत ने भी चीन से दो टूक कह दिया है कि अगर सेनाएं हटेंगी तो दोनों तरफ से हटेंगी।

वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीन (China) की हरकतें जारी हैं। भारत के साथ तनाव के बीच अब चीन की सेना ने हाल ही में बेहद उंचाई वाले स्थानों पर रॉकेट से बारूदी सुरंगों को दागने का प्रशिक्षण अभ्यास किया है।

भारत और चीन (India-China) के रिश्ते में एक बार फिर तनाव है। दोनों देशों के बीच यह तनाव उस समय चरम पर पहुंच गया, जब जून के महीने में गलवान घाटी में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुए हिंसक संघर्ष में 20 भारतीय सैनिकों की मौत हो गई।

एलएसी (LAC) पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच लगातार शांति वार्ता की कोशिश की जा रही है। अब तक दो दौर की वार्ता हो चुकी है। इसके बाद भी हालात में कोई सुधार नहीं आया है। ऊपर से चीन की चालबाजियों की वजह से उस पर भरोसा करना मुश्किल है।

पूर्वी लद्दाख में LAC पर बीते पांच महीनों से जारी तनाव के बीच अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो (Mike Pompeo) ने बड़ा खुलासा किया है। अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा है कि चीन ने भारत की उत्तरी सीमा पर 60,000 सैनिक तैनात किए हैं।

चीन (China) की हरकतें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। लद्दाख (Ladakh) के बाद चीन ने अब पूर्वोत्‍तर भारत  (India) में नया पैंतरा अपनाया है। चीन (China) अरुणाचल प्रदेश में वास्‍तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर आम नागरिकों की आवाजाही को बढ़ा द‍िया है।

भारत और चीन के बीच LAC पर जारी के तनाव के बीच पूर्वी लद्दाख में भारत किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। लद्दाख सेक्टर में इंडियन आर्मी (Indian Army) और वायुसेना (Indian Air Force) दिन रात दुश्मनों पर नजर गड़ाए हुए हैं।

भारत और चीन के बीच LAC पर तनाव के बीच अमेरिका के पेट्रोलिंग जहाज ने अंडमान-निकोबार द्वीप समूह से ईंधन भरना शुरू कर दिया है। 25 सितंबर को P-8 पोसाइडन एयरक्राफ्ट ने पोर्ट ब्‍लेयर में लैंड किया।

LAC पर चीन के साथ विवाद के बीच भारत अपनी ताकत बढ़ाने के लिए जोर शोर से काम कर रहा है। चीन (China) को हर मोर्चे पर मात देने के लिए भारत (India) पूरी तरह तैयार है।

चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव के बीच भारतीय सेना ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के करीब अपने टैंक तैनात किए हैं। केंद्र ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें पूर्वी लद्दाख में फॉरवर्ड पोस्ट पर भारतीय सेना के टैंक और बख्तरबंद वाहन खड़े हुए नजर आ रहे हैं।

भारत का स्टैंड साफ है कि हम ए टू जेड पूरे पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) की बात कर रहे हैं। मई में चीन  (China) ने पैंगोंग इलाके में घुसपैठ की कोशिश की थी लेकिन देपसांग की दिक्कत उससे काफी पहले की है।

चीन के साथ LAC पर तनाव जारी है। हालांकि इस तनाव को कम करने की कोशिश लगातार की जा रही है। लेकिन चीन की ओर से इसके लिए कोई खास प्रयास होता हुआ नजर नहीं आ रहा।

LAC पर चीन की हरकतों जवाब देने के लिए सीमा पर हर तरह से मजबूत होना जरूरी है। इसके लिए भारत को उन इलाकों तक पहुंच बनाने की जरूरत है। इसलिए भारत लेह-लद्दाख के इन दुर्गम चोटियों तक इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत बनाने में जुटा हुआ है।

LAC पर तनाव के बीच चीन ने अरुणाचल सीमा (Arunachal Pradesh Border) पर चहलकदमी बढ़ा दी है। जवाब में भारतीय सेना भी पूरी तरह तैयार है। विवादित इलाकों में सतर्कता बढ़ा दी गई है।

भारत और चीन के बीच हालात कुछ ऐसे हो गए हैं कि दोनों देशों की सेनाएं इस समय सीमा पर आमने-सामने हैं। LAC पर जारी तनाव के बीच चीन ने भारत के खिलाफ एक और चाल चली है। यह चाल हमारे जवानों को मानसिक दबाव में लाने के लिए चली गई है।

यह भी पढ़ें