Jammu

देश की सेवा करने की इच्छा रखने वाले युवाओं के लिए CRPF में बड़ा मौका है।

बीते बुधवार को अचानक ही जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दे दिया और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इसे स्वीकार कर लिया।

अनुच्छेद-370 के हटाए जाने के एक साल होने पर आतंकी किसी बड़े हमले की फिराक में हैं। मंगलवार को पुलवामा जिले के काकापोरा में आतंकियों ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया।

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) सीआरपीएफ ने ईद के विशेष मौके पर 1000 परिवारों में खाने के पैकेट बांटे हैं। किसी भी सहायता के लिए 24x7 14411 पर काल करें।

11 मार्च को सेना की 15वीं कोर के जीओसी केजेएस ढिल्लन में राज्य पुलिस और सीआरपीएफ के अधिकारियों के साथ श्रीनगर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि मारे गए इन 21 आतंकियों में से 8 आतंकी पाकिस्तानी हैं।

बालकोट आतंकी कैम्प पर हमले के बाद पाकिस्तान पूरी तरह से बौखला गया है। जब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोई दबाव नहीं बना पा रहा है तो भारत विरोधी ताक़तों के ज़रिए उलटे सीधे हरकत करा रहा है।

पुलवामा आतंकी हमले को अभी एक महीना भी पूरा नहीं हुआ है और इस बीच जम्मू-कश्मीर के 150 से भी अधिक युवक देश की रक्षा के लिए सेना में भर्ती हुए हैं।

यह भी पढ़ें