Jaish e Mohammed

पाकिस्तान‚ लश्कर–ए–तैयबा और जैश–ए–मोहम्मद जैसे भारत को निशाना बनाने वाले पांच आतंकवादी समूहों (Terror Groups) समेत ‘विदेशी आतंकवादी समूहों (Terror Groups)' के कम से कम 12 समूहों का अड्डा है।

सोनू खान (Terrorist Izhar Khan) की गिरफ्तारी के बाद से परिवार के लोग काफी मुखर हैं। इजहार के भाई नूर मोहम्मद ने मीडिया में कहा था कि वह और इजहार जम्मू में फल का कारोबार करते थे। उनका भाई निर्दोष है।

अल बदर के कथित आतंकी सुहैल बशीर की बाबत अदालत में दायर चार्जशीट में कहा है कि सुहैल बशीर को करीब छह किलो की विस्फोटक आईईडी जम्मू शहर के बाहरी इलाके हिजड़ा में एक बोरे में मिली थी।

कर्नल शर्मा ने ये जिम्मेदारी स्वाति के सिर पर थोप दी। साथ में तीन लोगों की एक टीम भी उसके हवाले कर दी। वैसे उनके हिसाब से ये सब जरूरी तो था पर उतना नहीं जितना कि फील्ड में आतंकवादियों का एनकाउंटर करना।

ये आतंकी जैश ए मोहम्मद से संबंधित हैं और अवंतीपोरा में आतंकियों को सुरक्षित स्थान, हथियार वगैरह मुहैया करवाते थे। पकड़े गए दोनों आतंकी, जैश ए मोहम्मद को खुफिया जानकारियां भी देते थे।

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish e Mohammed) का दिल्ली नेटवर्क सामने आया है। जैश-ए-मोहम्मद के गिरफ्तार दो आतंकियों (Terrorists) से पूछताछ में पता चला है कि वे एक वाट्सएप ग्रुप से जुड़े थे।

इन दोनों आतंकियों ( terrorists) के बारे में दिल्ली पुलिस को जानकारी मिली थी, जिसके बाद से इन दोनों आतंकियों को पकड़ने के लिए मास्टर प्लान तैयार किया गया था।

आंतकी संगठन सियालकोट-शकरगढ़ और भिम्बर-समानी सेक्टरों के जरिए भारत में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे हैं। इन सेक्टरों से पहले भी आतंकियों (Terrorists) ने घुसपैठ किया है। 

Jammu And Kashmir: आतंकियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। गुरुवार को कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों को एक बड़ी कामयाबी मिली है।

इस नए आतंकी संगठन को लकर सिक्योरिटी एजेंसियां अलर्ट पर हैं। मीडिया के पास जो वीडियो आया है उसमें एक आतंकी कुर्सी पर बैठा दिख रहा है और दो आतंकी उसके पीछे खड़े हैं।

यह भी पढ़ें