IPS

मीरा ने नौकरी के शुरूआती दौर में ही अपने तेवर से साफ कर दिया था कि वह हर हाल में गुंडाराज का सफाया करके रहेंगी। मीरा मोस्ट वांटेड अंडरवर्ल्ड डॉन और डी कंपनी के सरगना दाऊद इब्राहिम से लेकर छोटा राजन गैंग के कई सदस्यों को सलाखों के पीछे भेज चुकी हैं

साल 2017 में भी आरिफ एच शेख (IPS Arif H Sheikh) को पेंसिल्वेनिया में उनके अभियान आमचो बस्तर, आमचो पुलिस” के लिए उन्हें यह सम्मान दिया गया। आईएसीपी द्वारा दिए जाने वाले इस अवार्ड पर लगातार दो सालों से छत्तीसगढ़ पुलिस का कब्जा रहा।

करप्शन भरे माहौल में काम करना बहुत बड़ा चैलेंज है। भ्रष्टाचार से निपटने के लिए कोई बड़ा कदम उठाना बहुत ही मुश्किल है। इन मुश्किल हालातों के बीच काम करना टेढ़ी खीर है।

यह भी पढ़ें