India-Russia Defense Deal

वायु सेना (Indian Air Force) ने पिछले महीने से ही 12 सुखोई और 21 मिग–29 खरीदने के लिए एक प्रस्ताव रक्षा मंत्रालय को सौंपा था। वायु सेना (Indian Air Force) का कहना था कि मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए उसे अतिरिक्त लड़ाकू जहाजों की जरूरत है।

चीन के साथ बढ़ते तनाव के बीच भारत सरकार लगातार सेना की ताकतों को और मजूबत करने में जुटी है। लद्दाख (Ladakh) में सीमा विवाद के बीच रक्षा मंत्रालय (Defence Ministry) ने रूस से 33 नए फाइटर विमान की खरीद को मंजूरी दे दी है।

रूस (Russia) के डिप्टी चीफ ऑफ मिशन रोमन बबुश्किन ने 17 जनवरी को कहा कि भारत को सभी S-400 वायु रक्षा मिसाइल प्रणालियों की अपूर्ति 2025 तक कर दी जाएगी।

भारत अपनी सैन्य शक्तियों में दिन-ब-दिन इजाफा कर रहा है। इसी कड़ी में एक कदम और बढ़ाते हुए भारत ने रूस के साथ एक बड़ा समझौता किया है।