Govardhan Puja 2020

ये पूजा दिवाली के दूसरे दिन होती है और इसे मूल रूप से प्रकृति की पूजा माना जाता है। इसकी शुरुआत भगवान श्रीकृष्ण ने की थी।