Gadchiroli

पुलिस के मुताबिक नक्सल (Naxalites) प्रभावित क्षेत्र मौजा डोलांदा के जंगलों में ये मुठभेड़ बुधवार दोपहर को हुई। इसमें एक एक महिला नक्सली की मौत हो गई।

गश्त पर निकले सैनिकों को संदेह हुआ और जांच में 10 किलो आईईडी बरामद की गई। जिसे निष्क्रिय कर दिया गया है।

सी-60 कमांडो का एक दस्ता गट्टा क्षेत्र के एलदड़मी जंगल परिसर में गश्त पर निकला था। जंगल में पहले से घात लगाए नक्सलियों ने जवानों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में एक वर्दीधारी नक्सली मारा गया।

छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के सीमावर्ती इलाके से गढ़चिरौली (महाराष्ट्र) पुलिस को दो लाख की इनामी नक्सली (Naxali) पार्वती (24 साल) उर्फ सुशीला शंकर को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है।

महाराष्ट्र के नक्सल प्रभावित गढ़चिरौली जिले में नक्सलियों ने पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी (PLGA) सप्ताह से पहले 28 नवंबर की सुबह पेड़ गिराकर एक मार्ग को बंद कर दिया।

गढ़चिरौली जिला पुलिस को जानकारी मिली थी कि कोटी पुलिस थाना के पास नक्सली गतिविधियां हो रही हैं। इसके बाद पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई करनी शुरू की।

15 सितंबर को जिले के कोरची तहसील में नारेकसा जंगल में सुरक्षाबलों और नक्सलियों में मुठभेड़ हो गई। दरअसल, सुबह-सुबह सुरक्षाबल गश्त पर निकले थे। इस दौरान नक्सलियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर दी।

पुलिस के मुताबिक, 32 साल के किशोर उर्फ मधुकर मत्तमी और 30 साल के अशोक उर्फ नांग्सू होली पर नक्सलियों ने 10 सितंबर को जिले के गिलानगुडा गांव में हमला किया।

27 अप्रैल को महाराष्ट्र के गढ़चिरौली से नक्सलियों एवं पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई। नक्सलियों ने घात लगाकर पुलिस जवानों पर हमला किया था। नक्सलियों ने पुलिस टीम पर बम धमाका किया। इस हमले का जवाब देते हुये पुलिस जवानों ने मोर्चा संभाला। पुलिस की जवाबी फायरिंग में दो महिला नक्सलियों मारी गई।

यह भी पढ़ें