Farm Law 2020

आज यानी 6 फरवरी को कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर जारी किसान आंदोलन (Farmers Protest) को 100 दिन पूरे हो चुके हैं। सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों ने ऐलान किया है कि वह आंदोलन को ओर तेज करेंगे।

कृषि कानूनों (Farm Laws 2020) के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर पिछले दो महीने से अधिक समय से किसानों का प्रदर्शन (Farmers Protest) जारी है। आंदोलन को और तेज करने के लिए किसान संगठनों ने आज देशव्यापी चक्का जाम (Chakka Jam) का ऐलान किया है।

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने 26 जनवरी को लाल किले (Red Fort) पर हुई हिंसा के ममाले में दर्ज प्राथमिकी में अभिनेता दीप सिद्धू (Deep Sidhu) और 'गैंगस्टर' से सामाजिक कार्यकर्ता बने लक्खा सिधाना के नाम लिए हैं।

कृषि कानूनों (Farm Laws 2020) के खिलाफ किसानों का विरोध-प्रदर्शन (Farmers Protest) जारी है। गणतंत्र दिवस (Republic Day) के अवसर पर आज प्रदर्शनकारी किसानों के द्वारा ट्रैक्टर परेड (Farmers Tractor Parade) भी निकाली जा रही है।

किसान आंदोलन (Farmers Protest) का समाधान निकालने के लिए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) द्वारा गठित की गई चार सदस्‍यीय कमेटी में शामिल भूपिंदर सिंह मान (Bhupinder Singh Mann) ने इस समिति से खुद का नाम वापस लेने का फैसला लिया है।

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने तीनों कृषि कानूनों (Farm Laws 2020) पर अगले आदेश तक रोक लगा दिया है और एक कमेटी का गठन करने का आदेश दिया है।

केंद्र के नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ किसानों के आंदोलन (Farmers Protest) के एक महीने पूरे हो गए हैं। किसानों और केंद्र सरकार (Central Government) के बीच गतिरोध बरकरार है। अब तक बीच का रास्ता नहीं निकल पाया है।

Farmers Protest: केंद्र सरकार के कृषि कानूनों (Farm Law 2020) के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसान कड़ाके की ठंड में भी डटे हुए हैं। इसकी वजह से कई बार आम लोगों को परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है।

Farmers Protest: आज 16वें दिन भी केंद्र सरकार के कृषि कानूनों (Farm Law 2020) के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। किसानों ने आज से आंदोलन को और भी तेज करने का अल्टीमेटम दिया है।