CoBRA Commando

नक्सलियों (Naxalites) द्वारा अगवा किए गए सीआरपीएफ (CRPF) के जवान राकेश्वर सिंह मनहास (Rakeshwar Singh Manhas) कल यानी 16 अप्रैल को जम्मू स्थित अपने गांव पहुंचेंगे।

Bijapur Encounter: रिहाई के बाद राकेश्वर सिंह का मेडिकल चेकअप किया गया। उन्हें रिहाई मिलने के बाद तर्रेम में 168वीं बटालियन के कैंप में ले जाया गया।

बीजापुर नक्सली मुठभेड़ के बाद आखिरकार 5 दिन बाद नक्सलियों की कैद से कोबरा कमांडो राकेश्वर सिंह मनहास 8 अप्रैल को आजाद हो गए। नक्सलियों (Naxalites) ने उन्हें करीब चार बजे रिहा कर दिया।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर में 3 अप्रैल को हुए नक्सली हमले (Naxal Attack) में हमारे 22 जवान शहीद हो गए थे। कोबरा कमांडो (CoBRA Commando) राकेश्वर सिंह ((Rakeshwar Singh Manhas) हमले के बाद से ही लापता थे।

देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए तैनात कोबरा कमांडो (CoBRA Commando) राकेश्वर सिंह मनहास (Rakeshwar Singh Manhas)  को 3 अप्रैल के दिन नक्सलियों ने अगवा कर लिया था।

बीजापुर नक्सली मुठभेड़ (Naxal Encounter) के बाद पांच दिन तक नक्सलियों (Naxalites) की कैद में रहे कोबरा कमांडो (CoBRA Commando) राकेश्वर सिंह मनहास (Rakeshwar Singh Manhas) रिहा कर दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें