China

पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर हुई ताजा घटना पर भारतीय सेना (Indian Army) बयान जारी कर चीन (China) की पोल खोल दी है। चीन के दावों को पूरी तरह झुठलाते हुए भारत ने कहा कि पीएलए के जवानों ने उकसावे की कार्रवाई की।

पीओके में लोगों ने चीन (China) द्वारा बनाए जा रहे बांध का विरोध किया है। यहां लोग नीलम-झेलम नदियों पर बनाए जा रहे बांधों का विरोध कर रहे हैं।

India China StandOff: भारत ने एक उदार कदम उठाया है। भारत ने चीन से भटककर भारत की सीमा में दाखिल होने वाले मवेशियों को चीन को वापस लौटा दिया है।

Nyima Tenzin की अंतिम यात्रा के दौरान भारत और तिब्बत के झंडे एक साथ नजर आए। इस दौरान लोगों ने तिब्बत की आजादी के भी नारे लगाए।

India China Standoff: अरुणाचल प्रदेश की जो सीमा चीन से सटी हुई है, उस पर एक बड़ी खबर सामने आई है। आरोप है कि PLA ने बॉर्डर पर 5 भारतीयों को पकड़ लिया है।

साल 1962 में जब भारत (India) और चीन (China) के बीच युद्ध हुआ था तो दोनों देशों के पास परमाणु शक्ति नहीं था। लेकिन आज के समय में भारत और चीन दोनों के देशों के पास परमाणु शक्ति है।

India China Faceoff: चीन अब टू फ्रंट वॉर की रणनीति अपनाने के बारे में विचार कर रहा है। भारत के एक तरफ पाकिस्तान है और दूसरी तरफ चीन।

चीन (China) के हालिया मिसाइल परीक्षण के जवाब में अमेरिकी सेना ने भी परमाणु मिसाइल मिनटमैन का टेस्ट किया है। ये काफी शक्तिशाली मिसाइल है।

अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने चीनी सेना की सालाना रिपोर्ट में इस बात की आशंका जताई है कि चीन (China) वैश्विक सुपर पावर बनने के लिए ऐसा कर रहा है।

Black Top: रणनीतिक नजरिए से देखें, तो ये पहाड़ी काफी महत्वपूर्ण है। इसीलिए इस पहाड़ी पर भारतीय सेना का कब्जा करना बहुत जरूरी था।

India China Dispute: दोनों देशों ने सीमा पर सैनिकों की संख्या को बढ़ा दिया है। ताजा मामला ये है कि भारत और चीन ने अपनी तरफ से टैंकों की तैनाती कर दी है।

चीन (China) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा। बीते 15 जून को हुई झड़प के बाद एक तरफ चीन जहां पर शांति और बातचीत से विवाद सुलझाने की बात करता है तो दूसरी ओर चीनी सेना लद्दाख पर नजरें गड़ाए बैठी है।

चीन (China) और भारत का पहले से ही विवाद चल रहा है और अब 29-30 अगस्‍त की रात को एक बार फिर पूर्वी लद्दाख में चीन और भारत के बीच झड़प हुई है।

इस सैन्य अभ्यास में करीब 18 देशों की सेना हिस्सा लेगी। इन देशों में चीन, पाकिस्तान, सीरिया, रूस (Russia), तुर्की समेत कई मध्य एशियाई देश होंगे।

India China Border Clash: चीनी सैनिक पैंगोंग त्सो झील के पास फिंगर-5 के आसपास हैं और फिंगर 5 से फिंगर 8 तक पांच किलोमीटर से अधिक के इलाकों में ड्रैगन ने बड़ी संख्या में सैनिकों और उपकरणों को तैनात किया है।

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए चुनावी युद्ध (America Election) का बिगुल फूंका जा चुका है। जो बिडेन अमेरिकी चुनावों के दौरान अपने भाषणों में भारत के लिए खासा प्रेम दिखा रहे हैं।

चीन ने कहा है कि दोनों देशों को साथ में आगे बढ़ना चाहिए और एक-दूसरे पर शक नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़ें