Bhupesh Baghel

छत्तीसगढ़ के विकास के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। रविवार को सीएम भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) की अध्यक्षता में एक मीटिंग भी हुई।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) 28 जनवरी को दुर्ग और कांकेर जिले के दौरे पर हैं। मुख्यमंत्री ने कांकेर जिले को लगभग 342 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात दी।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की भूपेश बघेल सरकार (Bhupesh Baghel Government) ने नए साल के मौके पर 2021 का प्लान जनता के सामने रखा है। इसमें सरकार ने साल 2021 में राज्य के अंदर पूरे किए जाने वाले हर क्षेत्र के विकास कार्यों का ब्योरा दिया है।

प्रदेश की भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) सरकार ने 29 दिसंबर को सार्वजनिक-निजी भागीदारी (PPP) मॉडल के तहत राज्य में स्थापित होने वाले देश के पहले इथेनॉल संयंत्र के लिए एक MoU पर हस्ताक्षर किए।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) की सरकार ने दो साल पूरे होने का जश्न मना रही है। बता दें कि राज्य में कांग्रेस पार्टी की सरकार ने 17 दिसंबर को दो साल पूरे कर लिए।

सीएम बघेल (Bhupesh Baghell) ने लिखा है कि नक्सलवाद से निपटने के लिए ये जरूरी है कि प्रभावित क्षेत्रों में रोजगार के अवसर पैदा किए जाएं।

मुख्यमंत्री ने समारोह में 23 नई और 4 पुरानी तहसीलों के लिए कार्यालय भवन निर्माण और एक-एक वाहन की मंजूरी की घोषणा भी की।

Chhattisgarh: राज्य में चलाए जा रहे नरवा कार्यक्रम को एक बड़ी उपलब्धि हासिल हुई है। इस कार्यक्रम को नेशनल लेवल पर सम्मानित किया जाएगा।

राज्य में विकास के लिए उद्योगों को बढ़ावा देना बहुत जरूरी है। उद्योगों के विकास के बिना राज्य के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती।

केंद्र सरकार के नए कृषि, श्रम और उपभोक्ता कानूनों को छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में लागू नहीं किया जाएगा। इन केंद्रीय कानूनों को रोकने के लिए राज्य सरकार नया कानून बनाएगी।

मुख्यमंत्री बघेल की विशेष पहल पर वन अधिकार अधिनियम के तहत शहरी क्षेत्रों के निवासियों को भी वन अधिकार पत्रक देने की शुरुआत की गई है।

यह भी पढ़ें