ओडिशा: विधायक की हत्या में शामिल नक्सली ने किया सरेंडर

ओडिशा (Odisha) के मलकानगिरी पुलिस (Police) को एक बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस के सामने विधायक की हत्या में शामिल नक्सली (Naxalite) ने सरेंडर कर दिया है। सरेंडर करने वाले नक्सली का नाम अरसा हबिका है। पुलिस के मुताबिक, सरेंडर करने वाले नक्सली (Naxalite) अरसा हबिका पर प्रशासन की ओर से 4 लाख रुपये का इनाम घोषित था।

Naxalite
ओडिशा पुलिस के सामने विधायक की हत्या में शामिल नक्सली ने सरेंडर कर दिया।

ओडिशा (Odisha) के मलकानगिरी पुलिस (Police) को एक बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस के सामने विधायक की हत्या में शामिल नक्सली ने सरेंडर कर दिया है। सरेंडर करने वाले नक्सली का नाम अरसा हबिका है। पुलिस के मुताबिक, सरेंडर करने वाले नक्सली (Naxalite) अरसा हबिका पर प्रशासन की ओर से 4 लाख रुपये का इनाम घोषित था। सरेंडर करने वाला नक्सली आरकू विधायक केएस राव की हत्या में भी शामिल बताया जा रहा है।

केएस राव की हत्या 24 सितंबर, 2008 को नक्सलियों ने कर दी थी। उनके साथ एक पूर्व विधायक को भी नक्सलियों ने मौत के घाट उतार दिया था। ओडिशा के मलाकनगिरी एसपी ऋिकेश खल्लारी के सामने एसीएम रैंक के इस नक्सली (Naxalite) अरसा हबिका ने सरेंडर किया। पुलिस के अनुसार, अरसा साल 2012 से नक्सल संगठन से जुड़ा था। उसने छत्तीसगढ़ और ओडिशा में कई नक्सली वारदातों को अंजाम दिया है।

पुलिस पार्टी पर फायरिंग, कई गांवों में सरपंच की हत्या के अलावा सुकमा में इन्द्रवाति नदी के पास पुलिस पार्टी पर हमले में भी इस नक्सली (Naxalite) का हाथ था। नक्सली अरसा हबिका मूल रूप से खमागुड़ा कोरापुट जिले का रहने वाला बताया जा रहा है। सरेंडर करने के बाद इसे इनाम की राशि के अलावा सरकार की समर्पण योजनाओं का लाभ दिया जाएगा।

पढ़ें: धार्मिक आयोजन में पहुंच सकते हैं नक्सली, बिहार के इन जिलों में अलर्ट जारी

दौरे के बाद अफगान प्रतिनिधि ने कश्मीर के हालात पर जताई खुशी, कहा- यहां व्यापार की काफी संभावनाएं हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here