ओडिशा पुलिस के सामने नक्सली एतू कोरसा ने किया सरेंडर, संगठन की खोखली विचारधारा से था परेशान

नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इस बीच छत्तीसगढ़ के एक नक्सली ने ओडिशा पुलिस के सामने सरेंडर किया है।

Naxali Umesh Yadav

सांकेतिक तस्वीर।

पुलिस ने ये भी कहा कि ओडिशा सरकार नक्सलियों (Naxalites) के लिए पुनर्वास नीति लाई है, जिसके तहत नक्सलियों को सरेंडर करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

बोलंगिर: नक्सलियों (Naxalites) के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इस बीच छत्तीसगढ़ के एक नक्सली ने ओडिशा पुलिस के सामने सरेंडर किया है।नक्सली एतू कोरसा ने रविवार को पुलिस उपमहानिरीक्षक (उत्तरी रेंज) दीपक कुमार की मौजूदगी में ओडिशा पुलिस के सामने सरेंडर किया।

पुलिस उपमहानिरीक्षक ने बताया कि ये नक्सली आईईडी विस्फोट, हत्या समेत कई मामलों में आरोपी है और इसके खिलाफ केस दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि ये नक्सली भाकपा (माओवादी) के प्रमुख सदस्यों में से एक था।

जम्मू कश्मीर: सांबा में दूसरे दिन दिखे संदिग्ध ड्रोन, सुरक्षाबल सतर्क

पुलिस ने ये भी कहा कि ओडिशा सरकार नक्सलियों (Naxalites) के लिए पुनर्वास नीति लाई है, जिसके तहत नक्सलियों को सरेंडर करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

पुलिस ने बताया कि सरेंडर करने वाला नक्सली एतू कोरसा भी संगठन की खोखली विचारधारा से परेशान हो गया था, इसलिए उसने सरेंडर किया। पुलिस ने बाकी के नक्सलियों से भी अपील करते हुए कहा कि वे भी सरेंडर करें और सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ लें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें