झारखंड: संगठन से हो गया था मोहभंग, नक्सली दंपत्ति ने कोर्ट में किया सरेंडर

झारखंड (Jharkhand) के जमशेदपुर में नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ एक और कामयाबी मिली है। नक्सली गतिविधियों में सक्रिय रहे डुमरिया एरिया कमांडर सोबन मार्डी और उसकी पत्नी उर्मिला मेलगांडी ने 13 जुलाई को जमशेदपुर न्यायिक दंडाधिकारी प्रज्ञा वाजपेयी की कोर्ट में आत्मसमर्पण (Surrender) कर दिया।

Surrender

झारखंड (Jharkhand) के जमशेदपुर में नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ एक और कामयाबी मिली है। नक्सली गतिविधियों में सक्रिय रहे डुमरिया एरिया कमांडर सोबन मार्डी और उसकी पत्नी उर्मिला मेलगांडी ने 13 जुलाई को जमशेदपुर न्यायिक दंडाधिकारी प्रज्ञा वाजपेयी की कोर्ट में आत्मसमर्पण (Surrender) कर दिया।

बताया जा रहा है कि अधिवक्ता शिव शंकर प्रसाद ने दोनों नक्सलियों (Naxals) को कोर्ट में आत्मसमर्पण कराने की भूमिका निभाई। सूत्रों की मानें तो सोबन मार्डी और उर्मिला मेलगांडी पुलिस (Police) के समक्ष आत्मसमर्पण करना चाहते थे। लेकिन, बाद में दोनों ने अधिवक्ता से संपर्क कर कोर्ट में आत्मसर्पण कर दिया।

छत्तीसगढ़: 5 नक्सलियों ने किया सरेंडर, 15 पुलिसकर्मियों की हत्या में शामिल रहा है जगदीश

यह पहला मौका है जब किसी नक्सली दंपत्ति (Naxal Couple) ने कोर्ट में आत्मसमर्पण किया गया है। बताया जाता है कि अधिवक्ता ने इस संबंध में लिखित आवेदन कोर्ट में दिया था, जिसके बाद उन दोनों का सरेंडर करा दिया गया। बता दें कि यहां बता दें कि सोबन मार्डी की बहन तापरा मार्डी उर्फ सोमा मार्डी भी डुमरिया नक्सली दस्ता में शामिल थी, लेकिन उसने कुछ वर्ष पहले आत्मसमर्पण (Surrender) कर दिया था।

कोर्ट से बरी होने के बाद अब वह एक संस्थान में नौकरी कर अपना जीवन यापन कर रही है। सोबन मार्डी ने बताया कि नक्सली संगठन (Naxal Organization) से उसका मोहभंग हो गया था। हिंसक वारदातों को अंजाम देते-देते वह थक गया था। जिसके बाद उसकी बहन से उसकी बात हुई। बहन ने ही उसको सरेंडर करने के लिए मोटिवेट किया, जिसके बाद उसने पत्नी के साथ कोर्ट में आत्मसमर्पण (Surrender) कर दिया।

पुलिस ने दोनों को अपने कस्टडी में लेकर जेल भेज दिया है। कोरोना (Coronavirus) संक्रमण के कारण यह पहली बार हुआ है कि जब नक्सली आत्मसमर्पण करने को लिए कोर्ट के बाहर खड़े थे और पहले पीटीशन दाखिल किया गया और फिर कोर्ट का कर्मचारी कोर्ट के मुख्य गेट पर आकर दोनों नक्सलियों (Naxals) को अंदर लेकर पहुंचा।

यह भी पढ़ें