Jharkhand: गुमला से जल्द होगा नक्सलियों का सफाया, पुलिस ने की है ये तैयारी

झारखंड (Jharkhand) के गुमला (Gumla) जिले में नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ पुलिस जबरदस्त एक्शन में है। जिले से नक्सलियों (Naxalites) का सफाया करने के लिए पुलिसर प्रशासन ने कमर कस लिया है।

Naxals

पुलिस ने जिले के 25 लाख से एक लाख तक के 19 इनामी नक्सलियों (Naxals) की सूची बनाई है। संबंधित सूची का पोस्टर भी तैयार कर लिया गया है।

झारखंड (Jharkhand) के गुमला (Gumla) जिले में नक्सलियों (Naxals) के खिलाफ पुलिस जबरदस्त एक्शन में है। जिले से नक्सलियों (Naxalites) का सफाया करने के लिए पुलिसर प्रशासन ने कमर कस लिया है। पुलिस ने जिले के 25 लाख से एक लाख तक के 19 इनामी नक्सलियों की सूची बनाई है। संबंधित सूची का पोस्टर भी तैयार कर लिया गया है। हालांकि इन इनामी नक्सलियों में से सिर्फ सात नक्सलियों (Naxals) की तस्वीर पुलिस के पास उपलब्ध है।

बाकी नक्सलियों की फोटो या तो पुलिस रिकॉर्ड में नहीं है या उनकी ऐसी तस्वीरें है, जो वर्षों पुरानी है। जिस कारण वैसे नक्सलियों का बिना तस्वीर वाला पोस्टर चिपकाया जाएगा। बता दें कि इन नक्सलियों में सबसे अधिक इनाम कुख्यात नक्सली सौरव यादव के सिर पर है। उस पर प्रशासन की ओर से 25 लाख का इनाम घोषित है।

राफेल विमान से दुश्मनों को धूल चटाएंगी IAF की महिला फाइटर पायलट, मिली है खास ट्रेनिंग

जबकि सबसे कम दिनेश नागेशिया, जतरू खेरवार, जितेंद्र गंझू व पंचा उरांव पर एक-एक लाख इनाम की घोषणा है। इसके अलावा प्रमुख इनामी नक्सलियों में बुद्धेश्वर उरांव, रवींद्र गंझू, मुनेश्वर गंझू, रंथु उरांव, खुदी मुंडा व लजीम अंसारी सहित अन्य शामिल है। जल्द ही इन पोस्टर्स को ग्रामीण इलाकों और नक्सलियों के प्रभाव वाले इलाकों में लगाया जाएगा।

साथ ही नक्सलियों से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए ग्रामीणों से भी मदद ली जाएगी। पोस्टर के माध्यम से नक्सलियों को पकड़वाने की अपील की जाएगी। नक्सलियों की खबर पुलिस को देने और उन्हें पकड़वाने वाले का नाम-पता गुप्त रखा जाएगा। इतना ही नहीं, सूचना देने वाले को लाखों का नाम भी दिया जाएगा।

Kashmir: आतंक के खिलाफ एक्शन में सेना, आतंकियों को नहीं मिल रही छिपने की जगह

बता दें कि गुमला पुलिस द्वारा नक्सलियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इसमें पुलिस को सफलता भी मिल रही है। वहीं, 21 से 27 सितंबर तक चलने वाले भाकपा माओवादी स्थापना सप्ताह को लेकर पुलिस ने खास तैयारी की है। इस दौरान एक सप्ताह तक पुलिस द्वारा विशेष अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए पुलिस पदाधिकारियों को भी अलर्ट किया गया है।

ये भी देखें-

साथ ही नक्सलियों द्वारा यदि कहीं पर पोस्टर बाजी की घटना को अंजाम दिया जाए, तो तुरंत पोस्टर नहीं हटाने के लिए निर्देश दिया गया है। ऐसे इसलिए कि हो सकता है कि नक्सलियों (Naxals) ने पुलिस को नुकसान पहुंचाने के लिए पोस्टर बाजी वाले स्थान पर आईईडी लगा रखा हो। इसलिए पूरी सुरक्षा और एहतियात से काम करने का निर्देश पुलिस पदाधिकारियों को दिया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें