दंतेवाड़ा पुलिस ने कसा शिकंजा, करीब 405 मोस्ट वांटेड नक्सलियों की सूची जारी

नक्सलियों से मुख्यधारा में आने की अपील करते हुए शासन की पुनर्वास नीति के तहत इनाम की राशि दिए जाने का संकल्प भी दोहराया गया है।

Jharkhand

सांकेतिक तस्वीर।

इनामी नक्सली, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश में कई बड़ी वारदातों में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रुप से शामिल रहे हैं। कई ऐसे नक्सली हैं जो लगातार शहरों के संपर्क में रहते हैं और पहचान छुपाकर कई बार पुलिस की रेकी भी करते हैं।

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा (Dantewada) में पुलिस ने नक्सलियों पर शिकंजा कसा है। एसपी अभिषेक पल्लव ने दरभा डिवीजनल एरिया कमेटी के करीब 405 मोस्ट वांटेड नक्सलियों की सूची जारी की है। इन सभी नक्सलियों पर 1 लाख से 25 लाख रुपए तक के इनाम घोषित किए गए हैं।

नक्सलियों से मुख्यधारा में आने की अपील करते हुए शासन की पुनर्वास नीति के तहत इनाम की राशि दिए जाने का संकल्प भी दोहराया गया है। पुलिस ने 405 मोस्टवांटेड नक्सलियों की कमेटी की कुंडली जारी करते हुए इनके कार्य क्षेत्र की जानकारी दी है।

दरभा डिवीजन, मालंगेर एरिया कमेटी, कटेकल्याण एरिया कमेटी के सभी 405 नक्सलियों की सूची और उनकी पदस्थापना की जानकारी दी गई है। सूची में दरभा डिवीजन के सम्पूर्ण प्रभारी आंध्रप्रदेश निवासी गिरीरेड्डी पवनडा उर्फ श्याम उर्फ अर्जुनर्फ़ चेतू उर्फ नंदू उर्फ पंकज पर सबसे ज्यादा 25 लाख रुपए का इनाम जारी किया है, सबसे कम 1 लाख का इनाम कुमारी मडकम हिड़मे पर जारी किया गया है।

ये भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने सुरक्षाबलों के कैंप पर हमला किया, एक जवान शहीद

इनामी नक्सली, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश में कई बड़ी वारदातों में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रुप से शामिल रहे हैं। कई ऐसे नक्सली हैं जो लगातार शहरों के संपर्क में रहते हैं और पहचान छुपाकर कई बार पुलिस की रेकी भी करते हैं।

इस सूची के जारी होने के बाद अब सभी नक्सलियों का चेहरा व नाम उजागर हो जाने से, नक्सली खुलकर सामने नहीं आ पाएंगे। डर की वजह से भी कई नक्सली आत्मसमर्पण का रास्ता अपना सकते हैं जिसको देखते हुए दंतेवाड़ा जिले में आत्मसमर्पण नीति को ‘लोन वराटू’ का नाम देकर और भी आकर्षक बनाया गया है।

ये भी देखें-

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें