छत्तीसगढ़: भीमा मंडावी मर्डर केस में तीन युवक गिरफ्तार, NIA कर रही है जांच

NIA के एक प्रवक्ता ने बताया कि एजेंसी ने 28 जुलाई को दंतेवाड़ा के रहने वाले तीन युवकों को गिरफ्तार किया है।

Naxali

सांकेतिक तस्वीर।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने छत्तीसगढ़ के विधायक भीमा मंडावी मर्डर केस में शामिल 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। प्रतिबंधित संगठन भाकपा (माओवादी) के सदस्यों ने अप्रैल 2019 में भीमा की हत्या की थी। उस दौरान छत्तीसगढ़ पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी, जिसे बाद में NIA को सौंपा गया।

NIA के एक प्रवक्ता ने बताया कि एजेंसी ने 28 जुलाई को दंतेवाड़ा के रहने वाले तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए युवकों में लक्ष्मण जायसवाल, रमेश कुमार कश्यप और कुमारी लिंगे टाटी शामिल हैं। इन युवकों ने बताया कि वे प्रतिबंधित संगठन भाकपा (माओवादी) की मदद करते थे। घटना के वक्त भकपा सदस्यों द्वारा मारे गए पुलिसकर्मियों के हथियार और गोलाबारूद भी लूटे गए थे।

ये भी पढ़ें- राफेल विमान को भारत लाने वाले इन 5 पायलटों के बारे में कितना जानते हैं आप?

बता दें की हमले में मंडावी और उनके चार सुरक्षाकर्मी मारे गए थे। एनआईए ने इससे पहले 7 अप्रैल 2020 को दो संदिग्धों भीमा टाटी और मडका राम टाटी को गिरफ्तार किया था। जगदलपुर में एनआईए की एक विशेष अदालत ने गिरफ्तार युवकों को सात दिन की हिरासत में एजेंसी को सौंपने का निर्देश दिया है।

प्रवक्ता से मिली जानकारी के अनुसार रमेश कुमार कश्यप उर्फ रमेश हेमला और कुमारी लिंगे टाटी, लक्ष्मण जायसवाल के साथ नक्सलियों को साजो समान उपलब्ध कराने में शामिल थे। इन लोगों ने आईईडी विस्फोट के लिए बिजली के तार, विस्फोटक पदार्थ और अन्य सामग्री नक्सलियों को उपलब्ध कराई थी।

ये भी देखें –

यह भी पढ़ें