नक्सल ग्रस्त इलाके में बीमार महिला को कंधे पर लाद जवानों ने पहुंचाया अस्पताल, पेश की अनोखी मिसाल

आए दिन सुरक्षाबल के जवान आम जनता की मदद कर मानवता की मिसाल कायम करते हैं। हर बार यह साबित करते हैं कि सुरक्षा के साथ-साथ जरूरतमंद लोगों की मदद करने की जिम्मेदारी भी वे बखूबी निभा सकते हैं। ऐसी ही एक मिसाल कायम की है आईटीबीपी (ITBP) के जवानों ने।  

ITBP
बीमार महिला को कंधों पर ले जाते ITBP के जवान।

ताजा उदाहरण है छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले का। इस धुर नक्सल प्रभावित जिले में एक बीमार महिला की मदद आईटीबीपी (ITBP) के जवानों ने की। आईटीबीपी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, अबूझमाड़ इलाके के सोनपुर कैंप के जवान करीब 2 किलोमीटर तक बीमार महिला को बांस से बने स्ट्रेचर पर लाद अपने कंधों पर उठाकर ले गए। जिसके बाद सोनपुर गांव से लगे इलाके में एक आश्रम की जीप पहुंची और फिर मरीज महिला को आगे इलाज के लिए ले जाया गया।

दरअसल, जिले के टहका डोंड गांव में एक महिला की तबीयत खराब हो गई। नक्सल प्रभावित इलाका में होने की वजह से न तो सड़क की अच्छी सुविधा है, न कोई नजदीकी अस्पताल है और न ही फोन की कनेक्टिविटी। इस वजह से एम्बुलेंस भी इस इलाके में नहीं पहुंच सकती। करीब 15 से 16 किलोमीटर का सफर बीमार महिला के परिजनों ने उसे साइकिल पर लादकर तय किया।

तभी सर्चिंग पर निकले आईटीबीपी (ITBP) के जवानों की नजर उन पर पड़ी, तो जवानों ने महिला को आगे ले जाने में मदद की। जवानों ने बांस से बने स्ट्रेचर पर मरीज को लादकर अपने कंधों पर उठाया और किसी साधन की तलाश में आगे चलने लगे। करीब 2 किलोमीटर चलने के बाद एक आश्रम की जीप पहुंची। इसके बाद उस मरीज को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया।

पढ़ें: कुलभूषण जाधव के मामले में पाकिस्तान की नई चाल, कोई पाकिस्तानी ही कोर्ट में रखेगा उनका पक्ष

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here