छत्तीसगढ़: बीजापुर से एक नक्सली गिरफ्तार, एसपीओ के अपहरण और हत्या में था शामिल

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित बीजापुर (Bijapur) जिले से सुरक्षाबलों ने एक नक्सली (Naxali) को गिरफ्तार किया। यह गिरफ्तारी 30 जुलाई को हुई। गिरफ्तार नक्सली (Naxalites) अपहरण, पुलिस पार्टी पर हमला और हत्या जैसी वारदातों में शामिल रहा है।

Naxali

बीजापुर से गिरफ्तार नक्सली।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित बीजापुर (Bijapur) जिले से सुरक्षाबलों ने एक नक्सली (Naxali) को गिरफ्तार किया। यह गिरफ्तारी 30 जुलाई को हुई। गिरफ्तार नक्सली (Naxalites) अपहरण, पुलिस पार्टी पर हमला और हत्या जैसी वारदातों में शामिल रहा है। गिरफ्तारी को बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां से जेल भेज दिया गया।

जानकारी के मुताबिक, नक्सली (Naxals) 28 जुलाई से शहीदी सप्ताह मना रहे हैं। इसे देखते हुए 29 जुलाई को बासगुड़ा थाने से सीआरपीएफ (CRPF) की 168वीं बटालियन, कोबरा 204 बटालियन और जिला पुलिसबल के जवानों को सर्चिंग पर भेजा गया था। जवान डल्ला, सुरनार, मलेपल्ली के इलाको में सर्चिंग कर रहे थे।

राफेल के आते ही पाकिस्तान में दहशत, भारत पर हथियारों की होड़ शुरू करने का आरोप लगाकर दुनिया से मांगी मदद

इसी दौरान सुरनार के जंगलों से जवानों ने एक नक्सली (Naxali) को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार नक्सली का नाम मुचाकी जोगा है। वह बासगुड़ा के सुरनार का रहने वाला है। गिरफ्तार किया गया नक्सली (Naxali) सितंबर, 2019 में डल्ला-मोरकेंडमेट्टा के जंगल पर पुलिस पार्टी पर हुए हमले में शामिल था।

इतना ही नहीं, अक्टूबर 2010 में एसपीओ इरपा दिनेश समेत परिवार के 6 लोगों के अपहरण की घटना में भी यह शामिल था। अपहरण के बाद नक्सलियों ने इरपा की हत्या कर दी थी। इसके अलावा, इस गिरफ्तार नक्सली पर बासगुड़ा में एक वारंट भी लंबित था।

बता दें कि नक्सली (Naxalites) शहीदी सप्ताह मना रहे हैं। इस दौरान वे किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में रहते हैं। इसी के मद्देनजर इलाके में सुरक्षाबल पूरी सतर्कता बरत रहे हैं। नक्सलियों की हर गतिविधि पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इलाके में लगातार सर्च अभियान चलाया जा रहा है।