चाईबासा: भाकपा माओवादी का नक्सली देवेंद्र जामुदा गिरफ्तार, बरकेला वन भवन विस्फोट में था शामिल

पुलिस ने प्रतिबंधित भाकपा माओवादी संगठन के एक नक्सली (Naxalites) देवेंद्र जामुदा को गिरफ्तार किया है। इस मामले में एसपी अजय लिंडा ने जानकारी दी है।

Naxalite

सांकेतिक तस्वीर।

नक्सली (Naxalites) देवेंद्र ने भागने वाले लोगों के नाम भी बताए। मिली जानकारी के मुताबिक भागने वाले लोगों के नाम सुंदर सुरीन छोटा कुईरा, कमलू गांव मारादीरी, सुपे गांव ईचाहातु, राम बोईपाई गांव बरकेला व सिगराय टुटी उफ सिगराय कायम गांव सायतवा है।

चाईबासा: पुलिस ने प्रतिबंधित भाकपा माओवादी संगठन के एक नक्सली (Naxalites) देवेंद्र जामुदा को गिरफ्तार किया है। बरकेला वन भवन विस्फोट और चाईबासा शहर के अंदर बैनर लगाने के मामले में पुलिस देवेंद्र को ढूंढ रही थी।

इस मामले में एसपी अजय लिंडा ने जानकारी दी है। उन्होंने कहा, ‘हमें इस बात की जानकारी मिली थी कि स्थापना सप्ताह मनाने के लिए चाईबासा में कुछ नक्सली (Naxalites) आ रहे हैं। इनका मकसद बैनर लगाना है। इसके बाद से ही पुलिस की टीमें जांच कर रही थीं। इस दौरान बरकेला की तरफ से 3 मोटरसाइकिल पर 6 लोग सवार होकर चाईबासा की तरफ आ रहे थे, उन्हें रुकने के लिए कहा गया लेकिन वह बाइक भगाने लगे। पुलिस ने इनका पीछा किया और एक शख्स को पकड़ लिया। पकड़े गए शख्स की पहचान देवेंद्र जामुदा के रूप में हुई।’

ये भी पढ़ें- COVID-19: भारत में कोरोना के मामलों की संख्या पहुंची 56 लाख के पार, 24 घंटे में आए 83,347 नए केस

देवेंद्र ने भागने वाले लोगों के नाम भी बताए। मिली जानकारी के मुताबिक भागने वाले लोगों के नाम सुंदर सुरीन छोटा कुईरा, कमलू गांव मारादीरी, सुपे गांव ईचाहातु, राम बोईपाई गांव बरकेला व सिगराय टुटी उफ सिगराय कायम गांव सायतवा है।

एसपी ने बताया कि देवेंद्र के पास एक सूची थी, जिसमें केन बम बनाने की सामग्री लिखी हुई थी। इसे भाकपा माओवादी संगठन के शीर्ष कमांडर बुधराम उर्फ अजय महतो ने लिखा था। इसके अलावा नक्सली के पास से बैनर, पोस्टर और अन्य सामान भी मिला, जिसे जब्त कर लिया गया है।

ये भी देखें- 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें