झारखंड: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दी विकास कार्यों की सौगात, संतालपरगना में सुधरेंगे हालात

सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने कहा कि संतालपरगना में भी विकास योजनाओं को पहुंचाने के लिए काम किया जा रहा है। विकास की नई रणनीति बनाई है।

Hemant Soren

सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने कहा कि झारखंड सरकार ने कई योजनाओं के जरिए विकास की नई रणनीति बनाई है। 100 मेगावाट सब स्टेशन निर्माण की आधारशिला रखी गई है, जो करीब 2 साल में बनकर तैयार हो जाएगा।

साहिबगंज: झारखंड के साहिबगंज का बरहेट प्रखंड एक पिछड़ा इलाका है। इस क्षेत्र में मूलभूत सुविधाएं भी नहीं हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इस क्षेत्र के विकास के लिए समस्याओं को चिन्हित किया है। इससे बहहेट प्रखंड के किसी गांव में बिजली से जुड़ी कोई समस्या नहीं होगी और साहिबगंज में भी बिजली की आपूर्ति में कोई दिक्कत नहीं होगी। लंबे समय से बरहेट के लोग सरकारी योजनाओं के क्रियान्वय की उम्मीद में थे।

संतालपरगना में भी विकास योजनाओं को पहुंचाने के लिए काम किया जा रहा है। इसके अलावा बरहेट को अनुमंडल बनाने की दिशा में भी काम जारी है। ये बातें खुद सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने कही हैं।

लाल किले पर प्रदर्शनकारियों ने नहीं फहराया था ‘खालिस्तानी’ झंडा, जानें सच्चाई

सीएम सोरेन 132/33 केवी ग्रिड सब स्टेशन बरहेट-किताजोर (साहिबगंज) और 132 केवी पाकुड़-राजमहल (लिलो) संचरण लाइन के शिलान्यास समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य को आगे बढ़ाना है, विकास के पथ पर आगे ले जाना है, इसलिए सड़क, पानी और बिजली बेहद जरूरी है।

विकास की नई रणनीति

सीएम (Hemant Soren) ने कहा कि झारखंड सरकार ने कई योजनाओं के जरिए विकास की नई रणनीति बनाई है। 100 मेगावाट सब स्टेशन निर्माण की आधारशिला रखी गई है, जो करीब 2 साल में बनकर तैयार हो जाएगा। करीब पांच हजार किमी बिजली की लाइन बिछाई जाएगी, जिससे लोगों के घरों तक बिजली पहुंच सके। इन सब कामों की प्रगति रिपोर्ट पर सरकार की नजर रहेगी।

15 लाख लोगों को राशन कार्ड की व्यवस्था

सीएम ने कहा कि जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है, उन्हें सरकार राशन कार्ड देने का काम कर रही है। करीब 6 लाख जरूरतमंदों को पेंशन योजना का लाभ दिया जा रहा है। जल्द राज्य के लोगों को धोती-साड़ी योजना का लाभ भी मिलेगा। हम राज्य में बदलाव लाने के लिए तैयार हैं। कोरोना संक्रमण का धुंध छटने के साथ ही बदलाव भी नजर आएगा।

कोरोना से सुरक्षित रहने की जरूरत

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस प्रकार लगातार कोरोना वायरस अपना चेहरा बदल रहा है, उसमें हम सभी को और भी सुरक्षित रहने की ज़रूरत है। कई पाबंदियां हैं। स्कूल और कॉलेज बंद हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से हर जिले में मॉडल विद्यालय शुरू करने के साथ-साथ पहली से 12वीं कक्षा तक सीबीएसई की पढ़ाई शुरू करने की योजना बनाई गई है। अगर राज्य के बच्चों को डॉक्टर, इंजीनियर बनाना है तो उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना होगा।

इनका हुआ शिलान्यास और उद्घाटन

पतना हिरणपुर के 6 किलोमीटर में गुमानी नदी पर उच्चस्तरीय पुल निर्माण का शिलान्यास। तकनीकी सुविधाओं से लैस मॉडल स्कूल बरहेट साहिबगंज का ऑनलाइन उद्घाटन एवं कस्तूरवा गांधी बालिका उच्च विद्यालय भवन बरहेट का उद्घाटन। साहिबगंज और गोड्डा की विभिन्न विकास योजना का भी मुख्यमंत्री ने उद्घाटन और शिलान्यास किया।

परिसंपत्तियों का भी हुआ वितरण
मुख्यमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना, वन पट्टा, कृषि ऋण, कन्यादान योजना, प्रधानी पट्टा, वृद्धा पेंशन योजना, ग्रीन राशन कार्ड योजना, जेएसएलपीएस अन्तर्गत कैश लोन लिंकेज, सामुदायिक वन अधिकार पट्टा एवं फूलो-झानो योजना के तहत लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण किया गया। इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, राजमहल सांसद विजय हांसदा, प्रधान सचिव ऊर्जा विभाग अविनाश कुमार, उपायुक्त साहिबगंज राम निवास यादव, मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद व अन्य मौजूद थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

यह भी पढ़ें