छत्तीसगढ़: धमतरी में सुरक्षाबलों ने तीन महिला समेत पांच नक्सलियों को मार गिराया

डीआईजी नक्सल ऑपरेशन सुंदरराज पी के अनुसार, ऑपरेशन जारी है। फोर्स जंगल के अंदर है और तलाशी चल रही है। नक्सलियों के खिलाफ यह एक और बड़ा ऑपरेशन है।

naxal, chhattisgarh naxal, naxals killed, women naxals killed, dhamtari, encounter between naxal and security forces, 4 women naxalite killed, sirf sach, sirfsach.in

छत्तीसगढ़ के धमतरी में सुरक्षाबलों ने चार महिला नक्सलियों को मार गिराया

नक्सल प्रभावित इलाकों में मानसून में भी सुरक्षाबलों की कार्रवाई जोरों पर है। जवान नक्सलियों का चुन-चुन कर खात्मा कर रहे हैं। नक्सल प्रभावित राज्य छत्तीसगढ़ के धमतरी में 6 जुलाई की सुबह सुरक्षाबलों की नक्सलियों से मुठभेड़ शुरू हो गई। सुरक्षाबलों के मुताबिक, मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराया गया। जानकारी के मुताबिक, पुलिस को सूचना मिली थी कि बड़ी संख्या में नक्सली मेचका थाना क्षेत्र के जंगल में एकत्र हुए हैं। इस पर 6 जुलाई की सुबह करीब 6 बजे जिला पुलिस बल और एसटीएफ की टीम को ऑपरेशन के लिए रवाना किया गया। जंगल में सर्चिंग के दौरान नक्सलियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की।कई घंटों तक चली इस मुठभेड़ में तीन महिला नक्सली सहित पांच नक्सली मारे गए।

मुठभेड़ में मारे गए तीन महिला और एक पुरुष नक्सली का शव बरामद कर लिया गया। जबकि, एक नक्सली का शव साथी मौके से लेकर भागने में सफल रहे। साथ ही, मौके से सात हथियार भी बरामद हुए। मुठभेड़ के बाद नक्सली घने जंगल और पहाड़ी इलाके का फायदा उठाकर भाग निकले। मारे गए नक्सलियों की पहचान अभी नहीं हो पाई है। डीआईजी नक्सल ऑपरेशन सुंदरराज पी के अनुसार, ऑपरेशन जारी है। फोर्स जंगल के अंदर है और तलाशी चल रही है। नक्सलियों के खिलाफ यह एक और बड़ा ऑपरेशन है। इससे पहले, 27 जून को राज्य के सुकमा में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। पुलिस और नक्सलियों के बीच सुकमा के जंगल में हुई इस मुड़भेड़ में एक इनामी नक्सली ढेर हो गया था।

सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ स्थल से हथियार सहित मारे गए नक्सली का शव बरामद किया। 27 जून की सुबह सुरक्षा बलों की टीम सर्चिंग के लिए निकली थी। इसी बीच मुरलीगुड़ा व अटकल गांव के बीच जंगल मे नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई। 15 से 20 मिनट चली मुठभेड़ के बाद दूसरी ओर से गोलियां चलनी बंद हो गईं और नक्सली भाग खड़े हुए। इलाके की सर्चिंग करने पर वहां एक नक्सली का शव बरामद हुआ। इसके साथ ही भरमार बंदूक सहित भारी मात्रा में नक्सल सामाग्री भी बरामद की गई। मारे गए नक्सली की पहचान वंजाम बुधु नीलामड़गु के रूप में हुई है जो आरपीसी इंचार्ज और जन मिलिशिया कमांडर के पद पर था। इसके सिर पर लाख रूपए का इनाम घोषित था।

पुलवामा हमले में शहीद जवान की बेटी को मिला नियुक्ति पत्र, बिहार के मसौढ़ी में तैनाती

बजट में क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा, जानिए विस्तार से

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App