Coronavirus: दिल्ली में महामारी से पहली मौत, भारत के आधे राज्यों में स्कूल-कॉलेज बंद

राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कोरोना (Coronavirus) पीडि़त महिला ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया। 24 घंटे के भीतर देश में कोरोना (Coronavirus) पीडित मरीज की यह दूसरी मौत है। जनकपुरी निवासी 68 वर्षीया महिला को बृहस्पतिवार को ही संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इसके बाद उसे आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया था।

Coronavirus

डॉक्टरों के अनुसार महिला को बीपी और हाइपरटेंशन की परेशानी थी। गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती किया था। शुक्रवार रात 8 बजे वृद्धा ने दम तोड़ दिया। आरएमएल अस्पताल के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया कि शुक्रवार रात महिला को हार्ट अटैक आया था। महिला को उसके बेटे से संक्रमण मिला था। महिला का 46 वर्षीय कारोबारी बेटा 23 फरवरी को ही जेनेवा से लौटकर दिल्ली आया था।

पढ़ें- यूरोप बना कोरोना का केंद्र, 121 देशों में फैले वायरस से 5000 से अधिक लोगों की मौत

कारोबारी 5 से 22 फरवरी तक स्विट्जरलैंड और इटली की यात्रा पर था। स्वास्थ्य विभाग ने दो दिन पहले ही कारोबारी के संक्रमित होने की पुष्टि की थी। इनके घर में कुल 10 सदस्य हैं। विदेश से आने के बाद सबसे पहले कारोबारी के संपर्क में उनकी मां आई। उसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ने लगी थी। दिल्ली में अब तक कोरोना (Coronavirus) के 6 मामले सामने आ चुके हैं। इससे पहले बृहस्पतिवार कर्नाटक में भी कोरोना वायरस के चलते एक रोगी की मौत हो गई थी।

उच्चतम न्यायालय ने कोरोना वायरस (Coronavirus) वैश्विक महामारी (कोविड–19) का शुक्रवार को संज्ञान लेते हुए निर्णय लिया कि सिर्फ आवश्यक मुकदमों की ही सुनवाई होगी और संबंधित वकीलों के अलावा किसी अन्य व्यक्ति को न्यायालय कक्ष में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी।

दिल्ली में बीते चौबीस घंटे के दौरान 6 नए मामले पाए गए हैं। अब तक आरएमएल में 6 और सफदरजंग अस्पताल में 17 कोरोना (Coronavirus) पॉजीटिव मरीज भर्ती हैं। सफदरजंग अस्पताल में भर्ती 17 में से 13 मरीज बाहरी राज्य के निवासी हैं। शुक्रवार को तीन अस्पतालों में कुल 234 संदिग्धों की स्क्रीनिंग की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here