Coronavirus: कोरोना संक्रमण को लेकर WHO ने दी चेतावनी, कहा- खतरनाक फेज में पहुंच गई है दुनिया

कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चेतावनी दी है। WHO ने कहा है कि दुनिया अब एक नए और खतरनाक फेज में पहुंच गई है। WHO ने कहा कि भले ही अलग-अलग देशों में महामारी का अलग-अलग फेज हो, लेकिन वैश्विक स्तर पर वायरस फैलने की स्पीड बढ़ रही है।

Coronavirus

कोरोना संक्रमण को लेकर WHO ने चेतावनी दी है।

कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने चेतावनी दी है। WHO ने कहा है कि दुनिया अब एक नए और खतरनाक फेज में पहुंच गई है। WHO ने कहा कि भले ही अलग-अलग देशों में महामारी का अलग-अलग फेज हो, लेकिन वैश्विक स्तर पर वायरस फैलने की स्पीड बढ़ रही है।

19 जून को WHO के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस अधानोम गेब्रेयेसस ने कहा कि वायरस अब भी तेजी से फैल रहा है और अब भी यह जानलेवा है। ज्यादातर लोग अभी भी संवेदनशील हैं। इकोनॉमी खोलने के लिए तमाम देशों में दबाव बढ़ा है। WHO ने चेतावनी दी है कि सरकारों को अचानक भारी संख्या में नए मामले सामने आने के लिए तैयार रहना चाहिए।

बड़े हमले की कर रहे थे साजिश, दो खालिस्तानी आतंकी गिरफ्तार; आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़

WHO का कहना है कि लॉकडाउन खोलने के बाद अगर अचानक बड़ी संख्या में नए केस आते हैं तो हमें हैरान नहीं होना चाहिए। 18 जून को दुनिया में कोरोना के 1.5 लाख नए मामले सामने आए। यह अब तक की एक दिन में हुई सबसे बड़ी बढ़ोतरी है। इनमें से करीब आधे केस USA, ब्राजील और लैटिन अमेरिका के हैं।

WHO ने कहा कि मध्य पूर्व और दक्षिण एशिया में भी कोरोना (Coronavirus) के केस बढ़ रहे हैं। WHO प्रमुख ने कहा कि लोग पूरी तरह सतर्कता बरतें और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करें। WHO ने मास्क पहनने और बार-बार हाथ धोने की सलाह भी दी।

WHO प्रमुख टेड्रोस ने साल 1918 में फैले स्पेनिश फ्लू से COVID-19 की तुलना करते हुए कहा कि वो बीमारी एक के बाद एक तीन बार लौटी थी। जैसे ही लोग असावधान होंगे, कोरोना (Coronavirus) का घटता कहर फिर लौटेगा और ज्यादा प्रभावी होकर लौटेगा। महामारियां वैसे तो अलग-अलग पैथोजन्स से हो सकती हैं, उनके लक्षण और असर भी अलग होते हैं लेकिन लौटने के मामले में कई महामारियां एक तरह की दिखीं। बता दें कि WHO ने करीब 3 महीने पहले कोरोना वायरस को वैश्विक महामारी (Pandemic) घोषित किया था।

यह भी पढ़ें