Kanpur Encounter: 8 पुलिसकर्मियों का हत्यारा विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के कानपुर में 3 जुलाई को हुई 8 पुलिसवालों की हत्या के मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने मंदिर में चिल्ला-चिल्लाकर खुद को विकास दुबे बताया।

Vikas Dubey

कानपुर कांड का आरोपी विकास दुबे गिरफ्तार।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में 3 जुलाई को हुई 8 पुलिसवालों की हत्या के मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने मंदिर में चिल्ला-चिल्लाकर खुद को विकास दुबे बताया। इसके बाद गार्ड ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।  मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दुबे की गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

वहीं, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की। शिवराज चौहान ने कहा कि उनकी सरकार किसी भी अपराधी को नहीं बख्शेगी। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुबे की गिरफ्तारी को लेकर कहा, ‘जिनको लगता है कि महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धुल जाएंगे उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं। हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख्शने वाली नहीं है।’

Coronavirus updates: कोविड-19 को हवा में मारने वाला एयर फिल्टर तैयार! एकबार में 99.8 फीसदी वायरस समाप्त

इसी बीच यूपी पुलिस की एक टीम मध्यप्रदेश के लिए रवाना हो गई है। बता दें कि इससे पहले विकास दुबे (Vikas Dubey) के दो और करीबी साथी प्रभात मिश्रा और प्रवीण उर्फ बउवा दुबे 8 जुलाई को सुबह पुलिस मुठभेड़ में मारे गए। फरीदाबाद में गिरफ्तार हुए विकास दुबे के करीबी प्रभात को पुलिस कानपुर ला रही थीस तभी बीच रास्ते में प्रभात ने पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की।

पुलिस ने भी गोली चलाई तो प्रभात घायल हो गया, अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं, विकास का दूसरा साथी प्रवीण उर्फ बउवा इटावा में मारा गया। अबतक विकास दुबे (Vikas Dubey) के पांच करीबी साथी पुलिस मुठभेड़ में मारे जा चुके हैं जबकि दो अन्य साथी दयाशंकर कल्लू और श्यामू वाजपेयी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए साथियों के नाम हैं- प्रेम प्रकाश (विकास दुबे का मामा), अतुल दुबे (विकास दुबे का भतीजा), अमर दुबे (विकास दुबे का राइड हैंड), प्रभात और प्रवीण उर्फ बउवा। गौरतलब है कि यूपी के कानपुर के बिकरू गांव में विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर गैंगस्टर विकास दुबे और उसके गुंडों ने ने हमला कर दिया था, जिसमें डीएसपी सहित 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी गई थी। जबकि हमले में सात पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। इसके बाद से ही विकास दुबे (Vikas Dubey) फरार था और यूपी पुलिस उसको ढूंढने में लगी थी।

यह भी पढ़ें