उत्तर प्रदेश: सोनभद्र में अलर्ट जारी, नक्सलियों के घुसने की आशंका

पड़ोसी राज्यों की पुलिस से बचने के लिए नक्सली जिले के सीमावर्ती इलाकों में घुसने की फिराक में हैं। लेकिन जिले की पुलिस की सक्रियता से उनकी मंशा पूरी नहीं हो पा रही है।

Naxal attack, alert, naxalite arrested, varanasi, naxal infiltration, alert, CRPF, sirf sach, sirfsach.in

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले से सटे पड़ोसी राज्यों की सीमाओं पर नक्सली गतिविधियां तेज होने की सूचना पर अलर्ट जारी किया गया है।

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले से सटे पड़ोसी राज्यों की सीमाओं पर नक्सली गतिविधियां तेज होने की सूचना पर अलर्ट जारी किया गया है। पुलिस प्रशासन से जिले में अब तक हुए नक्सली हमलों और इनमें मारे गए लोगों, नक्सली गतिविधियों में शामिल संदिग्धों समेत अन्य बिंदुओं पर रिपोर्ट तलब की गई है। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर थानावार नक्सली हमले में मारे गए पुलिसकर्मियों, नक्सली और आम लोगों की सूची तैयार की जा रही है। जिले से सटे छत्तीसगढ़, बिहार और झारखंड में नक्सली वारदातों से पुलिस परेशान है। केंद्रीय पुलिस बल (CRPF) के साथ राज्यों की पुलिस नक्सलियों के खिलाफ जोर-शोर से अभियान चला रही है। ऐसे में पड़ोसी राज्यों की पुलिस से बचने के लिए नक्सली जिले के सीमावर्ती इलाकों में घुसने की फिराक में हैं।

उत्तर प्रदेश, Naxal attack, CRPF
नक्सली हमलों में मारे गए लोगों की रिपोर्ट तलब

लेकिन जिले की पुलिस की सक्रियता से उनकी मंशा पूरी नहीं हो पा रही है। जानकारी के मुताबिक, पड़ोसी राज्यों में नक्सलियों की सक्रियता का इनपुट मिलने पर शासन और पुलिस प्रशासन अलर्ट हो गया है। जिले में प्रशासन ने पुलिस से अब तक कितनी नक्सली घटनाएं हुईं, नक्सलियों ने कितनी बार सुरक्षा बलों पर हमला किया, कितनी बार पुलिस और नक्सलियों में मुठभेड़ हुई, इसमें मारे गए नक्सलियों, सुरक्षा कर्मियों, मुखबिरों, आम नागरिकों की संख्या, गिरफ्तार नक्सलियों की संख्या, आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों की संख्या, नक्सलियों से बरामद अस्त्र-शस्त्र का विवरण, नक्सली हमले में मारे गए नक्सली, पुलिसकर्मी समेत अन्य लोगों का नाम-पता समेत अन्य बिंदुओं की जानकारी मांगी है।

एसपी के निर्देश पर सभी थाना और चौकी प्रभारी जानकारी एकत्र कर रिपोर्ट तैयार करने में जुट गए हैं। पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी के मुताबिक, पड़ोसी राज्यों में नक्सलियों की सक्रियता को देखते हुए सीमा पर सुरक्षाकर्मियों को अलर्ट कर दिया गया है। जंगली, पहाड़ी क्षेत्रों में कांबिंग कर संदिग्धों पर नजर रखी जा रही है। पूर्व में हुई नक्सली घटनाओं से संबंधित रिपोर्ट तैयार कराई जा रही है।

पढ़ें: तनाव के मद्देनजर वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ की हिदायत- अलर्ट रहें और एयरबेस पर रखें तैयारी

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App