बड़गाम एनकाउंटर में 2 आतंकी मारे गए, 4 जवान घायल

जम्मू-कश्मीर के बड़गाम में 29 मार्च को सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ में दो आतंकियों ने मार गिराया है। यह मुठभेड़ बड़गाम के सुथुकला के छत्तरगाम में हुई। मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के बताए जा रहा हैं। इलाके में अब भी कुछ आतंकियों के छिपे होने की आशंका है। सुरक्षाबलों की कार्रवाई जारी है।

Encounter

जम्मू-कश्मीर के बड़गाम में 29 मार्च को सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ (Encounter) में दो आतंकियों ने मार गिराया है। यह मुठभेड़ (Encounter) बड़गाम के सुथुकला के छत्तरगाम में हुई। मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के बताए जा रहे हैं। इलाके में अब भी कुछ आतंकियों के छिपे होने की आशंका है। सुरक्षाबलों की कार्रवाई जारी है।

इस मुठभेड़ में 4 जवान जख्मी हो गए हैं। जिनमें एक जवान की हालत गंभीर है। मारे गए आतंकियों के पास से हथियार भी बरामद हुए हैं। इनमें से एक M-4 स्नाइपर राइफल है, जिसका इस्तेमाल अमेरिकी सेना करती है।

गौरतलब है कि पुलवामा हमले के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है। इससे एक दिन पहले 28 मार्च को शोपियां और हंदवाड़ा में सीआरपीएफ, सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन में 5 आतंकी मारे गए थे।

उधर, 28 मार्च को ही अनंतनाग से हिजबुल मुजाहिदीन का एक आतंकी रमीज अहमद डार गिरफ्तार किया गया। इससे पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 21 मार्च को जैश के आतंकी और सीआरपीएफ पर हमले के मास्टरमाइंड मुदस्सिर खान के करीबी सज्जाद खान को लालकिला इलाके से गिरफ्तार किया था।

14 फरवरी को पुलवामा हमले के बाद से ही वह फरार था। हमले से 10 दिन पहले उसने एक कार खरीदी थी। यह वही कार थी जिसमें विस्फोटक रखकर सीआरपीएफ के काफिले में धमाका किया गया था। कुछ दिनों पहले ही सुरक्षाबलों ने मुदस्सिर को मार गिराया था। ये दोनों ही सीआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती हमले करने वाले आदिल अहमद डार के संपर्क में थे।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीरः दो एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने 5 आतंकियों को मार गिराया

 

यह भी पढ़ें