Today History (04 March): महान साहित्यकार फणीश्‍वरनाथ रेणु की जन्मशती

आज का इतिहास (Today History): 4 मार्च को देश और दुनिया में हुई कुछ महत्वपूर्ण घटनाओं में से कुछ हैं, असहयोग आंदोलन में इस दिन ननकाना के एक गुरुद्वारे, जहां पर शान्तिपूर्ण ढंग से सभा का संचालन किया जा रहा था, पर सैनिकों के द्वारा गोली चलाने के कारण 70 लोगों की जानें गई। ब्रिटिश वायसराय, गवरनर-जनरल एडवर्ड फ्रेदेरिक्क लिन्द्ले वुड और मोहनदास करमचंद गांधी जी (महात्मा गांधी) में भेंट राजनीतिक कैदियों की रिहाई और नमक के सर्वजन उपयोग की छूट को लेकर मंत्रणा और इकरारनामे की घोषणा। फणीश्वर नाथ ‘रेणु’ (4 मार्च 1921-11 अप्रैल 1977) हिन्दी भाषा के साहित्यकार थे। उनके पहले उपन्यास मैला आंचल लिए उन्हें पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उनका जन्म बिहार के अररिया जिले में फॉरबिसगंज के पास औराही हिंगना गांव में हुआ था। उनकी शिक्षा भारत और नेपाल में हुई। इन्टरमीडिएट के बाद वे स्वतंत्रता संग्राम में कूद पड़े। बाद में 1950 में उन्होने नेपाली क्रांतिकारी आन्दोलन में भी हिस्सा लिया । उनकी लेखन-शैली वर्णणात्मक थी । पात्रों का चरित्र-निर्माण काफी तेजी से होता था। उनका लेखन प्रेमचंद की सामाजिक यथार्थवादी परंपरा को आगे बढाता है । 

Today History- इतिहास में 4 मार्च की तारीख में दर्ज देश और दुनिया अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं:-

  • 1921 – असहयोग आंदोलन में इस दिन ननकाना के एक गुरुद्वारे, जहां पर शान्तिपूर्ण ढंग से सभा का संचालन किया जा रहा था, पर सैनिकों के द्वारा गोली चलाने के कारण 70 लोगों की जानें गई।
  • 1931 – ब्रिटिश वायसराय, गवरनोर-जनरल एडवर्ड फ्रेदेरिक्क लिन्द्ले वुड और मोहनदास करमचंद गांधी जी (महात्मा गांधी) में भेंट राजनीतिक कैदियों की रिहाई और नमक के सर्वजन उपयोग की छूट को लेकर मंत्रणा और इकरारनामे की घोषणा।
  • 1998 – भारत के प्रकाश शाह सं.रा. महासचिव द्वारा बगदाद में विशेष प्रतिनिधि नियुक्त।
  • 1999 – संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारियों को अपनी परित्यक्ता पतनी एवं बच्चों को जीवन निर्वाह भत्ता देने की घोषणा।
  • 2001 – तालिबान ने मूर्तियों को ख़रीदने की ईरान की पेशकश ठुकराई।
  • 2002 – राष्ट्रमंडल में जिम्बाब्वे के ख़िलाफ़ प्रस्ताव नामंजूर, अफ़ग़ानिस्तान में भूस्खलन से 150 मरे।
  • 2003 – नाइजीरिया के कब्बी राज्य में एक नौका के नाइजर नदी में डूब जाने से 80 व्यक्ति मारे गये।
  • 2008- तेलंगाना राज्य के गठन में हो रही देरी से नाराज तेलंगाना राष्ट्र समिति (टी.आर.एस) के विधायकों ने आन्ध्र प्रदेश विधानमण्डल की सदस्यता से इस्तीफा दिया। हिन्दी के प्रसिद्ध विद्वान् डॉ. मदन लाल मधु को प्रतिष्ठित सम्मान मीडिया यूनियन ने स्वर्णाक्षर पुरस्कार से सम्मानित किया।
  • 2008- संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने ईरान के ख़िलाफ़ नई पाबंदियाँ लागू की।
  • 2009 – रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने प्रमुख ब्याज दरों में आधा प्रतिशत की कटौती की घोषणा की। 2009 – पटना उच्च न्यायालय के चन्दमौली कुमार प्रसाद को इलाहाबाद उच्च न्यायालय व कर्नाटक उच्च न्यायालय को न्यायधीश दीपक वर्मा को राजस्थान उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायधीश बनाया गया है। राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने नवीन चावला के मुख्यचुनाव आयुक्त पद पर नियुक्ति को मंज़ूरी दी। राजस्थान के पोखरन से ब्रह्मोस मिसाइल के नये संस्करण का परीक्षण किया गया।

नक्सल प्रभावित इलाके में CRPF ने लगाया मेडिकल कैम्प, लोगों में बांटे जरूरत के सामान

Today History- इतिहास में 4 मार्च को जन्मी कुछ प्रमुख हस्तियां

  • 1856 – तोरु दत्त – अंग्रेज़ी भाषा की सर्वश्रेष्ठ प्रतिभासम्पन्न कवयित्री।
  • 1881 – रामनरेश त्रिपाठी, प्राक्छायावादी युग के महत्त्वपूर्ण कवि।
  • 1886 – बलुसु संबमूर्ति, मद्रास के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी।
  • 1921 – फणीश्वरनाथ रेणु, साहित्यकार।
  • 1922 – दीना पाठक, प्रसिद्ध गुजराती रंगमंच और फ़िल्म अभिनेत्री।
  • 1929 – कोमल कोठारी – राजस्थान के ऐसे व्यक्ति, जो राजस्थानी लोक गीतों व कथाओं आदि के संकलन एवं शोध हेतु समर्पित थे।
  • 1980 – रोहन बोपन्ना, भारतीय टेनिस खिलाड़ी।
  • 1980 – कामालिनी मुखर्जी, भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री।

Today History- इतिहास में 4 मार्च को देश-दुनिया के कुछ प्रमुख हस्तियों का निधन

  • 1899 – ठाकुर जगमोहन सिंह – मध्य प्रदेश स्थित विजयराघवगढ़ के राजकुमार और प्रसिद्ध साहित्यकार।
  • 1928 – सत्येन्द्र प्रसन्न सिन्हा – प्रसिद्ध भारतीय अधिवक्ता और राजनेता।
  • 1939 – लाला हरदयाल – भारत के प्रसिद्ध क्रांतिकारी और ‘गदर पार्टी’ के संस्थापक।
  • 2007 – सुनील कुमार महतो, भारतीय सांसद।
  • 2016 – पी. ए. संगमा – भारत के राजनीतिज्ञों में से एक थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here