Jammu-Kashmir: सुरक्षाबलों ने किया आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़, आतंकियों के सहयोगी गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में सुरक्षाबलों का एंटी-टेरेरिस्ट ऑपरेशन जारी है। सुरक्षाबल पूरी प्लानिंग के साथ आतंकियों का सफाया करने में लगे हैं। पुलवामा और बडगाम जिले में आतंकी ठिकानों (Terrorist Hideout) का पता चला है।

Terrorist Hideout

आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़।

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में सुरक्षाबलों का एंटी-टेरेरिस्ट ऑपरेशन जारी है। सुरक्षाबल पूरी प्लानिंग के साथ आतंकियों का सफाया करने में लगे हैं। पुलवामा और बडगाम जिले में आतंकी ठिकानों (Terrorist Hideout) का पता चला है। साथ ही लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के सहयोगी भी पकड़े गए हैं। लसीपोरा गांव और बड़गाम के अरिजल खानसैब में जवानों को यह कामयाबी मिली है।

जानकारी के अनुसार, लसीपोरा गांव में आतंकियों के ठिकाने (Terrorist Hideout) की सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने कार्रवाई शुरू की। इस गांव को सुरक्षाबलों ने चारों ओर से घेर लिया और तलाशी शुरू कर दी। दरअसल, खबर मिली थी कि सुरंग बनाकर आतंकियों ने पनाह ली है। इसकी सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने जेसीबी मशीन से खुदाई शुरू की है।

भारत में पिछले 24 घंटे में 103 लोगों की मौत, 3,970 नए मामले आए सामने

इसके अलावा, कश्मीर के बड़गाम के अरिजल खानसैब में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी ठिकाने (Terrorist Hideout) का पता लगाया है। साथ ही लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) का मददगार जहूर वानी को भी गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि यह ठिकाना सुरंगनुमा था। यहां से हथियारों के साथ गोला-बारूद भी बरामद किया गया।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, सुरंग में मिले सामानों को देखकर लगता है कि आतंकी कई दिनों से यहां रुके थे। यह सुरंग जहूर वानी के घर से करीब 500 मीटर दूर है, वो भी उसकी अपनी जमीन पर। ऐसा कहा जा रहा है कि वानी लंबे वक्त से आतंकियों की मदद कर रहा था। पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान वानी के चार और सहयोगियों को पकड़ा है। सभी अरिजल खानसैब कस्बे के रहने वाले हैं।

ट्रंप ने की पीएम मोदी और भारतवंशी वैज्ञानिकों की तारीफ, भारत को देंगे वेंटिलेटर्स

ये सभी लश्कर के आतंकियों को लॉजिस्टिक और ट्रांसपोर्ट मुहैया कराते थे। यह ग्रुप पिछले कुछ महीनों से इस इलाके में एक्टिव था। बता दें कि दो दिन पहले भी कुलगाम में आतंकियों के छिपे होने की खबर सुरक्षाबलों को मिली थी, जिसके बाद सुरक्षाबलों की एक ज्वॉइंट टीम ने आतंकियों की तलाशी के लिए पूरे इलाके में बड़ा सर्च ऑपरेशन चलाया था।

34 आरआर (33RR) बटालियन और सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) की टीम ने यमराक के पूरे इलाके को घेर कर कार्रवाई की। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ बड़े ऑपरेशन की शुरुआत की है। इसी ऑपरेशन के तहत सुरक्षाबलों ने कुछ दिन पहले मोस्ट वॉन्टेड आतंकी रियाज नायकू को मार गिराया था। पुलवामा (Pulwama) जिले में अवंतीपोरा के बेगपोरा इलाके में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने 40 किलो आईईडी (IED) से उस घर को ही उड़ा दिया था, जिसमें रियाज नायकू (Riyaz Naikoo) छिपा हुआ था।

अब सुरक्षा बलों ने दस मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की लिस्ट तैयार की है। इस लिस्ट में हिजबुल मुजाहिदीन के नए चीफ कमांडर गाजी हैदर का नाम टॉप पर है। सुरक्षाबलों की इस लिस्ट में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन (Hizbul Mujahideen), जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) और लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के टॉप आतंकियों के नाम शामिल हैं।

यह भी पढ़ें